Create LIVE Show

"सोच से पन्नों तक का सफर ही हमें लेखक बनाता है ! अब वो चाहे कहानी हो या कविता या फिर शेरो शायरी... ये सब शुरू होते हैं ख्यालों से, जो शब्द बनकर कलम तक और कलम से बोल तक के सफर को तय करते हुए पहुंचते है लोगो के दिलों तक वैसे तो लिखने की कोई इकलौती बेस्ट रेसिपी नहीं होती लेखन की दुनिया की यही ख़ास बात है हम सब एक दम अलग अलग तरह से सोचते हैं और लिखते भी हैं और यही सोच आइडेंटिटी बनकर हमारी राइटिंग में दिखती है लेखन के सफर के इस 6 साल के तजुर्बे ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है, हर दिन की राइटिंग प्रैक्टिस और मंच पर बोलते हुए मै रोज़ कुछ नया सिखने पर भरोसा रखती हूँ और मै आ रही हूँ अपने इस तजुर्बे की कुछ टिप्स और ट्रिक्स लेकर इस वर्कशॉप के ज़रिये हम कई सारी बातें सीखने वाले हैं जिसमे हम शुरू से शुरुआत करेंगे 😍 इस वर्कशॉप में हम अलग-अलग टॉपिक्स पर बातें करेंगे जैसे कि, - शब्दों का सही चयन कैसे किया जाए -”कम शब्दों में बहुत कुछ कह देना” और “बारीक सी डिटेलिंग देते वक़्त छोटी छोटी बातों को कैसे प्रस्तुत किया जाये ” - नयी थीम्स, आइडियाज कैसे सोचें और किस तरह कुछ अलग लिखने की करें - जो कंटेंट पढ़ा जाने वाला है और जो कंटेंट सुना जाने वाला है दोनों को लिखते वक़्त किन बातों पर ध्यान देना चाहिए - कहानी एवं कविता लेखन के दौरान कौन सी बातें हमारे कंटेंट को और बेहतर बनती हैं. - बिना किसी को कॉपी किये अपने लिखने और बोलने के अंदाज पर कैसे काम किया जाए - मंच पर परफॉरमेंस की तैयारी कैसे की जाए ताकि आत्म विश्वास बना रहे 🥰 इसके अलावा भी आपके सवालों हो तो आप कमेंट करके बता सकते हैं, हम उन टॉपिक्स पर भी बातें करेंगे और मेरा मानना है कि हमारे अंदर एक छोटे बच्चे जैसी क्यूरोसिटी हमेशा रहनी चाहिए क्यूंकि ज्ञान इस दुनिया का वो धन है जिसे जितना सीखोगे उतना बेहतर बनोगे . तो आज ही बुक करें पेशे से आर्किटेक्ट और भोपाल से तलूक रखने वाली स्टोरीटेलर Anjali Choudhary की ये वर्कशॉप। ❤️❤️"

""

सोच से पन्नों तक का सफर ही हमें लेखक बनाता है ! अब वो चाहे कहानी हो या कविता या फिर शेरो शायरी... ये सब शुरू होते हैं ख्यालों से, जो शब्द बनकर कलम तक और कलम से बोल तक के सफर को तय करते हुए पहुंचते है लोगो के दिलों तक वैसे तो लिखने की कोई इकलौती बेस्ट रेसिपी नहीं होती लेखन की दुनिया की यही ख़ास बात है हम सब एक दम अलग अलग तरह से सोचते हैं और लिखते भी हैं और यही सोच आइडेंटिटी बनकर हमारी राइटिंग में दिखती है लेखन के सफर के इस 6 साल के तजुर्बे ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है, हर दिन की राइटिंग प्रैक्टिस

78 Love
2 Share

"राष्ट्रीय कवि एवं गीत सम्मेलनों की जानी पहचानी कवियत्री गीतकार Dr. Shakuntala Sarupariya हम सभी के बीच लेकर आ रही हैं शायरी, गीत ग़ज़लों से सजा एक खूबसूरत लाइव शो जिसका नाम है "Paigaam-E-Mohabbat - Nigahon Mein Rakhna" ! इस शो में शकुंतला जी अपनी सुरीली आवाज़ और अंदाज में जिंदगी के तमाम पहलुओं से जुड़े, अनकहे इश्क़, अधूरे प्रेम, एकतरफा प्यार के एहसासों को ग़ज़लों गीतों के माध्यम से हमारे सामने प्रस्तुत करेंगी !😍❤️ डॉ. शकुंतला सरूपरिया जी मूलतः उदयपुर राजस्थान से हैं ! इनके देश की विभिन्न संगीत की कंपनियों के साथ 16 ऑडियो कैसेट्स हिंदी एवं राजस्थानी में रिलीज हो चुके हैं । विगत 14 वर्षों से संपादक व प्रकाशक- तनिमा मासिक साहित्यिक सांस्कृतिक व वैचारिक पत्रिका. वरिष्ठ मंच संचालक भी हैं । साथ ही साथ राजस्थानी एवं हिंदी अकादमी से * हिवड़ा रो हेलो और कहानियों सी बेटियां *पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं । नारी केंद्रित विषयों पर 50 कविता कोलाज़ की प्रदर्शनी । अनेक पुरस्कारों से सम्मानित । दूरदर्शन आकाशवाणी कलाकार।हिंदी सेवी भी हैं !❤️🔥 आज ही लाइव शो बुक करें और हिस्सा बनें गीत ग़ज़लों की इस खूबसूरत महफ़िल का !🤩🤩🥳"

""

राष्ट्रीय कवि एवं गीत सम्मेलनों की जानी पहचानी कवियत्री गीतकार Dr. Shakuntala Sarupariya हम सभी के बीच लेकर आ रही हैं शायरी, गीत ग़ज़लों से सजा एक खूबसूरत लाइव शो जिसका नाम है "Paigaam-E-Mohabbat - Nigahon Mein Rakhna" ! इस शो में शकुंतला जी अपनी सुरीली आवाज़ और अंदाज में जिंदगी के तमाम पहलुओं से जुड़े, अनकहे इश्क़, अधूरे प्रेम, एकतरफा प्यार के एहसासों को ग़ज़लों गीतों के माध्यम से हमारे सामने प्रस्तुत करेंगी !😍❤️

डॉ. शकुंतला सरूपरिया जी मूलतः उदयपुर राजस्थान से हैं ! इनके देश की विभिन्न संगीत की कं

69 Love
2 Share

"अपनी लाइव पोएट्री वर्कशॉप के पहले एपिसोड में कपिल नय्यर जी ने हम सभी से कविताओं से जुडी बारीकियां शेयर की और हम सभी ने ख्यालों से कविताओं को बुनने के सफर के पहले पड़ाव को पार किया - और इस सेशन में आप सभी ने बड़े मन लगन से हिस्सा लिया ! अपने ख्यालों को कविताओं का रूप देने, कवितायेँ लिखना सुनाना सिखाने के इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए - हम लेकर आ रहे हैं लाइव पोएट्री वर्कशॉप सेशंस का दूसरा एपिसोड !😍❤️ दोस्तों, नोजोटो के सबसे चहेते कलमकार Kapil Nayyar अपनी लाइव पोएट्री वर्कशॉप (लर्निंग सेशंस) जिसका नाम है "Kavita Ki Pathshala - Learn the Art Of Poetry" का दूसरा भाग या एपिसोड लेकर आप सभी के बीच हाजिर हैं ! पोएट्री वर्कशॉप के इस एपिसोड में कपिल जी कविताओं से जुडी आगे की बारीकियां बताएँगे, कवितायेँ लिखने से पहले किस तरह सोचें, अपनी सोच ख्यालों को कैसे अल्फ़ाज़ों में पिरोने जैसी तमाम चीजें बताएँगे !❤️🔥 आज ही शो बुक करें और कविता की इस पाठशाला में सीखें कवितायेँ लिखना, सुनाना !🤩🤩🥳"

""

अपनी लाइव पोएट्री वर्कशॉप के पहले एपिसोड में कपिल नय्यर जी ने हम सभी से कविताओं से जुडी बारीकियां शेयर की और हम सभी ने ख्यालों से कविताओं को बुनने के सफर के पहले पड़ाव को पार किया - और इस सेशन में आप सभी ने बड़े मन लगन से हिस्सा लिया ! अपने ख्यालों को कविताओं का रूप देने, कवितायेँ लिखना सुनाना सिखाने के इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए - हम लेकर आ रहे हैं लाइव पोएट्री वर्कशॉप सेशंस का दूसरा एपिसोड !😍❤️

दोस्तों, नोजोटो के सबसे चहेते कलमकार Kapil Nayyar अपनी लाइव पोएट्री वर्कशॉप (लर्निंग सेशंस) जिसका

95 Love

"किट्टू के स्वयंवर वाले प्यार में निकल गए हैं डिफेक्ट, किट्टू सर पीटते हुए बता रही हैं श्यामवर के साइड इफ़ेक्ट ! हम सभी ने देखा किट्टू ने बड़ी धूम धाम से अपना स्वयंवर रचाया था, क्या बड़ा बूढा जवान हर कोई अपना भाग्य आजमाने आया था ! किट्टू ने बाकि लड़कों को तो बारी बारी से अपने चुलबुले अंदाज में धुना था, आखिर कर बहुत सोच समझ कर टुरु वाले लव को चुना था ! मगर जैसे जैसे फ़ोन पर बतियाने और चाय पर मिलने मिलाने का सिलसिला बढ़ने लगा, किट्टू का हर सपना धीरे धीरे करके चकना चूर होने लगा ! आखिरी किट्टू के टुरु वाले लव में क्या निकल आये हैं डिफेक्ट - यही सब बताने आ रही हैं लेकर स्वयंवर के साइड इफ़ेक्ट !🤣😆 पेशे से इंजीनियर, एमबीए और कलाकार Bhawna Mishra लेकर आ रही हैं अपने कॉमेडी लाइव शो "Bambaiya Biharan" का सातवा एपिसोड जिसका नाम है "Swayamvar ke Side Effects" ! इस एपिसोड में किट्टू जी बताएंगी की स्यंवर के साइड इफेक्ट्स और उससे बचने के नुस्ख़े, वो ये भी बताएंगी की कैसे डिफेक्टिव निकल जाते हैं अच्छे खासे दिखने वाले लड़के ! सुना है किट्टू दोबारा से कोई सुन्दर सुशील लड़का तलाश रही है, तो देर किस बात की है चले आओ और अपना अपना भाग्य आजमाओ !😍🔥🔥 क्या कहा आप भी स्वयंवर करने का सोच रहे हैं - तो उससे पहले स्वयंवर के साइड इफेक्ट्स भी जान लें ! जानने के लिए आज ही लाइव शो बुक करें !🤩🤩🥳"

""

किट्टू के स्वयंवर वाले प्यार में निकल गए हैं डिफेक्ट, किट्टू सर पीटते हुए बता रही हैं श्यामवर के साइड इफ़ेक्ट !
हम सभी ने देखा किट्टू ने बड़ी धूम धाम से अपना स्वयंवर रचाया था, क्या बड़ा बूढा जवान हर कोई अपना भाग्य आजमाने आया था ! किट्टू ने बाकि लड़कों को तो बारी बारी से अपने चुलबुले अंदाज में धुना था, आखिर कर बहुत सोच समझ कर टुरु वाले लव को चुना था ! मगर जैसे जैसे फ़ोन पर बतियाने और चाय पर मिलने मिलाने का सिलसिला बढ़ने लगा, किट्टू का हर सपना धीरे धीरे करके चकना चूर होने लगा ! आखिरी किट्टू के टुरु वाल

88 Love
3 Share

"हमारी धन्नपुर्णा उर्फ़ धन्नो के "धन्नो मैरिज ब्यूरो" ने आखिर कर अपना बकरा ढूँढ लिया है अरे मेरा मतलब अपना पहला क्लाइंट ढूंढ लिया है ! जी हाँ दोस्तों, 25 साल के नौजवान मिस्टर आज़ाद अपने पिताजी की दूसरी औलाद हैं एक का नाम रखा गया आज़ाद और दुसरे का फौलाद ! जीवन पिताजी की दी हुई पॉकेट मनी पर कट रहा है ! और जीवन में जब भी लव किया तब तब भी कटा ही है ! कहते हैं अबकी जो भी मिलेगी उसे जाने नहीं देंगे, मानो जैसे रानी बनाकर रखेंगे ! तो क्या धन्नो मैरिज ब्यूरो इनके के लिए कोई ऐसी कन्या ढूंढ पायेगा जो इनके साथ जिंदगी तो काटे मगर इनका न काटे !😂🤪 दिल्ली की बिज़नेस स्टूडेंट और यंग कलाकार Preeti Aggarwal लेकर आ रही हैं अपने कॉमेडी लाइव शो "O Bhaisaab Kehna Kya Chahte Ho" का दूसरा पार्ट यानि की भाग 2 ! जिसमें धन्नपुर्णा उर्फ़ धन्नो कुमारी और उनकी टीम पूरे जी जान से लग गयी है मिस्टर आज़ाद यानि उनके पहले क्लाइंट के लिए सुन्दर सुशील कन्या ढूंढ़ने के लिए ! दोस्तों जब जब हमारी धन्नों ने कुछ काम शुरू किया है - तब तब स्यापा जरूर हुआ है ! अब इसबार क्या बवाल मचेगा ये तो शो में आने पर ही पता चलेगा ! हाहाहाहाहा 😅🥴❤️ क्या कहा आपको भी है हमसफ़र की तलाश, तो लाइव शो बुक करो और आ जाओ धन्नो के पास, वो करेंगी सबका विकास मेरा मतलब भला ! 🤩🤩🥳 "

""

हमारी धन्नपुर्णा उर्फ़ धन्नो के "धन्नो मैरिज ब्यूरो" ने आखिर कर अपना बकरा ढूँढ लिया है अरे मेरा मतलब अपना पहला क्लाइंट ढूंढ लिया है ! जी हाँ दोस्तों, 25 साल के नौजवान मिस्टर आज़ाद अपने पिताजी की दूसरी औलाद हैं एक का नाम रखा गया आज़ाद और दुसरे का फौलाद ! जीवन पिताजी की दी हुई पॉकेट मनी पर कट रहा है ! और जीवन में जब भी लव किया तब तब भी कटा ही है ! कहते हैं अबकी जो भी मिलेगी उसे जाने नहीं देंगे, मानो जैसे रानी बनाकर रखेंगे ! तो क्या धन्नो मैरिज ब्यूरो इनके के लिए कोई ऐसी कन्या ढूंढ पायेगा जो इनके साथ

85 Love