Search Results for: Aditya shrivastava

  • All
  • People
  • Stories
  • Tags

Stories that match your search ...

More Results

Aditya ANS [Aditya Raj Chhatrapati]'s Stories in 2018
#Throwback2018

Aditya ANS [Aditya Raj Chhatrapati] की कहानियाँ 2018 में
#लम्हें2018 #

2 Love
262 Views

"" मेरा परिवार " ( by Satyam Shrivastava ) परिवार बनता है .. कुछ जज्बात से ,कुछ एहसास से कुछ प्यार से , कुछ तकरार से कभी रूठना , कभी मनाना छोटी-छोटी बातों में बेवजह गुस्सा हो जाना एक दूसरे की गलती को माफ करते जाना रूठे को हंसाना बेवजह खिलखिलाना हर त्यौहार मिलजुलकर मनाना बिना l Love You बोले सच्चा वाला प्यार जता जाना.. बस ऐसे ही बनता है परिवार जिसे हम कहते हैं हमारा घराना.."

" मेरा परिवार "
( by Satyam Shrivastava )
परिवार बनता है ..
कुछ जज्बात से ,कुछ एहसास से 
कुछ प्यार से , कुछ तकरार से 
कभी रूठना , कभी मनाना 
छोटी-छोटी बातों में बेवजह गुस्सा हो जाना 
एक दूसरे की गलती को माफ करते जाना 
रूठे को हंसाना बेवजह खिलखिलाना
हर त्यौहार मिलजुलकर मनाना 
बिना l Love You बोले  
सच्चा वाला प्यार जता जाना..
बस ऐसे ही बनता है 
परिवार जिसे हम कहते हैं हमारा घराना..

" मेरा परिवार "

( by Satyam Shrivastava )

परिवार बनता है ..

कुछ जज्बात से ,कुछ एहसास से

42 Love
1 Share

"एक जंग है दिल और दिमाग में दिल जिसके साथ है दिमाग उसके खिलाफ है.. Satyam shrivastava"

एक जंग है दिल और दिमाग में 
दिल जिसके साथ है 
दिमाग उसके खिलाफ है..
Satyam shrivastava

एक जंग है दिल और दिमाग में
दिल जिसके साथ है
दिमाग उसके खिलाफ है..
Satyam shrivastava
#स्वतंत्र #Nojoto #Nojotohindi #booklover #Girlfriend

10 Love

"" बुरा वक्त " ( by Satyam Shrivastava ) जिंदगी के सफर में, एक ऐसा मोड़ भी आएगा .. देखते ही देखते हर अपना, पराया होता चला जाएगा .. वह वक्त तुझे बहुत रुलाएगा, न जाने कितना सताएगा .. जाने अनजाने में वह तुझसे, अनचाहे काम भी करवाएगा .. पर याद रखना मेरी बातों को, ए-अनजान-मुसाफिर ... वह बुरा वक्त ही तुझे, तेरी असली पहचान दिलाएगा..."

" बुरा वक्त "
( by Satyam Shrivastava )
जिंदगी के सफर में,
एक ऐसा मोड़ भी आएगा ..
देखते ही देखते हर अपना,
 पराया होता चला जाएगा ..
 वह वक्त तुझे बहुत रुलाएगा,
न जाने कितना सताएगा ..
जाने अनजाने में वह तुझसे, 
अनचाहे काम भी करवाएगा ..
पर याद रखना मेरी बातों को, 
ए-अनजान-मुसाफिर ...
वह बुरा वक्त ही तुझे,
तेरी असली पहचान दिलाएगा...

" बुरा वक्त "
( by Satyam Shrivastava )

जिंदगी के सफर में,एक ऐसा मोड़ भी आएगा l देखते ही देखते हर अपना, पराया होता चला जाएगा ll
वह वक्त तु

9 Love

kavi shubham shrivastava's Stories in 2018
#Throwback2018

kavi shubham shrivastava की कहानियाँ 2018 में
#लम्हें2018 #Nojoto2018

4 Love
93 Views
3 Share