Search Results for: kavishal

  • All
  • People
  • Stories
  • Tags

Stories that match your search ...

More Results

"काबा किस मुंह से जाओगे 'ग़ालिब'  शर्म तुम को मगर नहीं आती  Mirza Ghalib "

काबा किस मुंह से जाओगे 'ग़ालिब' 
शर्म तुम को मगर नहीं आती 

Mirza Ghalib

कोई उम्मीद बर नहीं आती
कोई सूरत नज़र नहीं आती

मौत का एक दिन मुअय्यन है
नींद क्यूं रात भर नहीं आती

आगे आती थी हाल-ए-दिल पे हंसी
अब किस

7 Love

"Best sad breakup "सपने दे कर इन आँखों को कोई सपना तोड़ गया बनकर हमसफ़र कोई राह में तन्हा छोड़ गया मुस्कान देकर न जाने क्यों हम से रूठ गया एक पल की ख़ुशी दे कर ज़िन्दगी भर के लिये आँखों को छलकती नमी दे गया क्या समझेगा प्यार किसी का वो जो ख़ुद... प्यार के मायने भूल गया..... ✍🏻 Poonam Bagadia "Punit""

Best sad breakup "सपने दे कर इन आँखों को कोई सपना तोड़ गया
बनकर हमसफ़र कोई राह में तन्हा छोड़ गया 
मुस्कान देकर न जाने क्यों हम से रूठ गया
एक पल की ख़ुशी दे कर ज़िन्दगी भर के लिये आँखों को छलकती नमी दे गया
क्या समझेगा प्यार किसी का वो जो ख़ुद...
प्यार के मायने भूल गया.....

✍🏻 Poonam Bagadia "Punit"

"क्या समझेगा प्यार किसी का वो जो ख़ुद प्यार के मायने भूल गया...…. #Nojoto #Nojotohindi #kavishal #kalakaksh #Humour #Poetry #Quotes #missyou

48 Love

#kavishal #Nojoto #Holi #Poetry
https://youtu.be/4MMymwOFukQ

3 Love

"Tu Pyar Hai Kisi Aur Ka "जानती हूँ तू किस और कि आँखों मे सजता है फिर क्यों तू ऐसे बन कर धड़कन इस दिल ❤ मे धड़कता है....??? ✍🏻Poonam Bagadia "Punit""

Tu Pyar Hai Kisi Aur Ka "जानती हूँ तू किस और कि आँखों मे सजता है
फिर क्यों तू ऐसे बन कर धड़कन इस दिल ❤ मे धड़कता है....???

✍🏻Poonam Bagadia "Punit"

"एक सवाल उससे जो ख़ुद जवाब किसी और का है..... #Nojoto #Nojotohindi #kalakaksh #Humour #Poetry #Love #Dard #Bewafa #kavishal #missyou #Pyar #t

83 Love

"अजीब पहेलियों का शहर है जनाब यहाँ की सुबह भी थोड़ी सुनसान है रातें तो यहाँ की वक़्त ढलने के बाद भी जवान है यूँ लम्हों के ख्वाब में खोया जो गुनहगार है थाने में लगता है कोई आया नया थानेदार है वक़्त की बरकत ही तो अता है वरना कौन यहां खुद में अता सब लापता हैं "

अजीब पहेलियों का शहर है जनाब
यहाँ की सुबह भी थोड़ी सुनसान है
रातें तो यहाँ की वक़्त ढलने के बाद भी जवान है
यूँ लम्हों के ख्वाब में खोया जो गुनहगार है
थाने में लगता है कोई आया नया थानेदार है
वक़्त की बरकत ही तो अता है
 वरना कौन यहां खुद में अता सब लापता हैं

#paheliya#sehar#Rat#gunehgar#Nojoto#kavishal

42 Love