Search Results for: ujjawal

  • All
  • People
  • Stories
  • Tags

Stories that match your search ...

More Results

Aab Raato ko sona bhul gya hai.
Nind nhi hai aakho mea.

Aab Teri jrurat Aan padi hai...
Dill ni lgta kisi kea Baaton mea..

Am waiting

4 Love

"दो बातें करनी है तुमसे इक के कैसी हो ? दूज़ी मेरे बिन कैसी हो ?? दो बातें करनी है तुमसे इक ये के क्या हुआ ? दूज़ी मेरे बिन तेरा क्या हुआ ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के अब कौन है ? दूज़ी मेरे बाद अब कौन है ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के क्यों ? दूज़ी के अब मिले क्यों ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के याद है ? दूज़ी के क्या याद है ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के खुश हो ? दूज़ी वाक़ई खुश हो ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के कुछ नहीं ? दूज़ी अब तो कुछ नहीं ?? दो बातें करनी है तुमसे इक के अब भी ? दूज़ी क्या अब भी ? दो बातें करनी है तुमसे इक के मैं क्यों ? दूज़ी के सतिन्दर ही क्यों ? ©️✍️ सतिन्दर #NojotoQuote"

दो बातें करनी है तुमसे 
इक के कैसी हो ?
दूज़ी मेरे बिन कैसी हो ??  
दो बातें करनी है तुमसे 
इक ये के क्या हुआ ?
दूज़ी मेरे बिन तेरा क्या हुआ ?? 
दो बातें करनी है तुमसे 
इक के  अब कौन है ?
दूज़ी मेरे बाद अब कौन है ?? 
दो बातें करनी है तुमसे
इक के क्यों ?
दूज़ी के अब मिले क्यों ??  
दो बातें करनी है तुमसे 
इक के याद है ?
दूज़ी के क्या याद है ??
दो बातें करनी है तुमसे
इक के खुश हो ?
दूज़ी वाक़ई खुश हो ?? 
दो बातें करनी है तुमसे 
इक के कुछ नहीं ?
दूज़ी अब तो कुछ नहीं ?? 
दो बातें करनी है तुमसे
इक के अब भी ?
दूज़ी क्या अब भी ? 
दो बातें करनी है तुमसे
इक के मैं क्यों ?
दूज़ी के सतिन्दर ही क्यों ? 

©️✍️ सतिन्दर  #NojotoQuote

दो बातें करनी है तुमसे
इक के कैसी हो ?
दूज़ी मेरे बिन कैसी हो ??

दो बातें करनी है तुमसे
इक ये के क्या हुआ ?
दूज़ी मेरे बिन तेरा क्या हुआ

129 Love
4 Share

"रोज़ी! नहीं रोटी खुराक है,अपनी ..! पर क्या करूँ करना पड़ता है। ©️✍️ सतिन्दर"

रोज़ी! नहीं रोटी खुराक है,अपनी
..! पर क्या करूँ करना पड़ता है।

©️✍️ सतिन्दर

करना पड़ता है
#kuchलम्हेंज़िन्दगीke #satinder #सतिन्दर #नज़्म #करनापड़ताहै #रोज़ी #रोटी #ख़ुराक़ @Nojoto Hindi @Ias Aspirant Ujjawal @Azin Irshad Mu

4 Love

"किसी किताब में अटकी पेन्सिल रोये । छील के ख़त्म करे कोई फ़साना उसका ।। ©️✍️ सतिन्दर"

किसी किताब में अटकी पेन्सिल रोये ।
छील के ख़त्म करे कोई फ़साना उसका ।। 

©️✍️ सतिन्दर

किसी किताब में अटकी पेन्सिल रोये ।
छील के ख़त्म करे कोई फ़साना उसका ।।

©️✍️ सतिन्दर

#kuchलम्हेंज़िन्दगीke #satinder #सतिन्दर #नज़्म
#रेख़्त

24 Love

"अगर गाँधी जी ज़िंदा होते तो एक जान एक माटी एक भाषा एक देश एक देश मेरा देश तेरा देश भारत हमारा एक देश एक देश । 1 तू अलग मैं अलग जाति पाति है अलग अलग अलग अलग की एक परिभाषा एक देश एक देश । 2 भगत ही भगत हों , आज़ाद ही आज़ाद हों सुख के देव की है ये अभिलाषा एक देश एक देश । 3 अहिंसा बोल चल पड़ा सो सैकड़ो चल पड़े । बना महात्मा की है आत्मा एक देश एक देश ।। ©️✍️ सतिन्दर गाँधी जयन्ती की हार्दिक शुभकामनाएं🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳"

अगर गाँधी जी ज़िंदा होते तो एक जान एक माटी एक भाषा एक देश एक देश
मेरा देश तेरा देश भारत हमारा एक देश एक देश । 1
तू अलग मैं अलग जाति पाति है अलग अलग
अलग अलग  की एक परिभाषा एक देश एक देश । 2
भगत ही भगत हों , आज़ाद ही आज़ाद  हों
सुख के देव की है ये अभिलाषा एक देश एक देश । 3
अहिंसा बोल चल पड़ा सो सैकड़ो चल पड़े ।
बना महात्मा की है आत्मा एक देश एक देश ।।

©️✍️ सतिन्दर
गाँधी जयन्ती की हार्दिक शुभकामनाएं🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳

गाँधी जयंती
@Ias Aspirant Ujjawal @Ikhtiyar ahmed @Azin Irshad @Munfarid Gorakhpuri @Modified SONI..

10 Love