मेरे गमों को और गमगीन न कर 
        मीठी यादों को

मेरे गमों को और गमगीन न कर मीठी यादों को

मेरे गमों को और गमगीन न कर मीठी यादों को नमकीन न कर न पिघला जख्मों को अपनी गर्मी से पनाह न ल मेरी इन आँखों में अक्स धुँधला जाते है ए अश्क तुझसे खुशी के कई नकाब ओढ़ रखे हैं मैंने, खुदाया निहा-ए-जख्मों की यूँ तहरीर न कर पारुल शर्मा #gif मेरे गमों को और गमगीन न कर मीठी यादों को नमकीन न कर न पिघला जख्मों को अपनी गर्मी से पनाह न ल मेरी इन आँखों में अक्स धुँधला जाते है ए अश्क तुझसे खुशी के कई नकाब ओढ़ रखे हैं मैंने, खुदाया निहा-ए-जख्मों की यूँ तहरीर न कर। पारुल शर्मा #2liner #nojotohindi#nojoto#nojotoquotes#nojotoofficial#hindi#shayari#hindipoetry#poetry#sher#हिन्दीकविता#शेर#शायरी#कविता#रचना#h#kavishala#hindipoet#TST#Kalakash#Faiziqbalsay#motivation#kavi#kavishala#kavi# #कवि#life#शायर#कवि#life#जीवन. Also Read about .

1 Stories