भीगेँगे जो किसी रोज हम मोहब्बत की ‘बरसात’ में..फिर

भीगेँगे जो किसी रोज हम मोहब्बत की ‘बरसात’ में..फिर

भीगेँगे जो किसी रोज हम मोहब्बत की ‘बरसात’ में..फिर’कमज़ोर’ से इस दिल को इश्क का ‘बुखार’ पक्का है.. #gif. Also Read about .

1 Stories