दाम-ए-ख़ुश-बू में गिरफ़्तार सबा है कब से
लफ़्ज़ इज

दाम-ए-ख़ुश-बू में गिरफ़्तार सबा है कब से लफ़्ज़ इज

दाम-ए-ख़ुश-बू में गिरफ़्तार सबा है कब से लफ़्ज़ इज़हार की उलझन में पड़ा है कब से #gif #इश्क #इज़हार #लफ्ज़ #gif #nojoto #hindi. Also Read about .

1 Stories