Flowers
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"ख़्वाहिश तो है उनसे मिलने की पर कभी कोशिश नहीं किया, सोचा जब ख़ुदा माना है उन्हें तो बिन देखे ही पूजेंगे..."

ख़्वाहिश तो है उनसे मिलने की पर कभी कोशिश नहीं किया,
सोचा जब ख़ुदा माना है उन्हें तो बिन देखे ही पूजेंगे...

Radhe Radhe 🙏💓
#KrishnaJanmashtami #kanha #radheshyam #krishnpremi
#Flower #NojotoFilms #nojotonews #Nojoto

282 Love
1 Share

""

"unke jindgi se gum dur hone ki jo meri dua thi .. kuch is kdr kubul hue .. ek pal m hum unse dur..."

unke jindgi se gum dur hone ki 
jo meri dua thi .. 
kuch is kdr kubul hue ..
ek pal m hum unse dur...

#lovequotes #loveshayri #nojoto

247 Love

""

"ये फूल जो मुस्कुरा रहे हैं, हमें देखकर, लगता है इन्हें भी कोई याद आ रहा है हमें साथ देखकर। कुम्हलाई सी थी जो पत्तियां गर्मी की धूप से रंग भरने लगी हैं दोबारा इस गुलाबी ठंड में, तुम्हारा ये प्यार करने का अंदाज़ देखकर । __सत्यप्रभा 💕 ___मेरी जिंदगी ✍"

ये फूल जो मुस्कुरा रहे हैं, हमें देखकर,
लगता है इन्हें भी कोई याद आ रहा है
 हमें साथ देखकर।
कुम्हलाई सी थी जो पत्तियां गर्मी की धूप से
रंग भरने लगी हैं दोबारा इस गुलाबी  ठंड में,
तुम्हारा ये प्यार करने का अंदाज़ देखकर ।

__सत्यप्रभा 💕
___मेरी जिंदगी ✍

#Love#life😍💕

153 Love

""

"ना रूठ ये तक़दीर छोटी सी गुनाह से मेरे। बड़ी तकलीफ़ से गुज़र रहा दिल नाकामी से मेरे। - रूपम राजभर"

ना रूठ ये तक़दीर छोटी सी
गुनाह से मेरे। 
बड़ी तकलीफ़ से गुज़र रहा दिल 
नाकामी से मेरे।
- रूपम राजभर

#बात
#अनुभव
#कहानी
#रैप
#शायरी
#कविता
#कॉमेडी
#संगीत

102 Love

""

"अपनी नींदें उड़ाना पड़ेगा तुम्हे ख्वाब मेरे सजाना पड़ेगा तुम्हें शर्त इतनी अगर मेरी मंजूर हो सारे नखरे उठाना पड़ेगा तुम्हें अपने सारे गमों को सुनाऊं तुम्हें जख्म कितने हुए हैं दिखाऊं तुम्हें हाथ थामे हुए पास बैठे रहो होके विह्वल गले से लगाऊँ तुम्हें दिल में सहमे हुए मेरे जज़्बात हो लव पे ठहरी हुई अनकही बात हो एक दूजे में ऐसे समा जाए हम दिया बाती सी अपनी मुलाकात हो"

अपनी नींदें उड़ाना पड़ेगा तुम्हे 
ख्वाब मेरे सजाना पड़ेगा तुम्हें
शर्त इतनी अगर मेरी मंजूर हो
सारे नखरे उठाना पड़ेगा तुम्हें

अपने सारे गमों को सुनाऊं तुम्हें
जख्म कितने हुए हैं दिखाऊं तुम्हें
हाथ थामे हुए पास बैठे रहो 
होके विह्वल गले से लगाऊँ तुम्हें

दिल में सहमे हुए मेरे जज़्बात हो
लव पे ठहरी हुई अनकही बात हो
एक दूजे में ऐसे समा जाए हम
दिया बाती सी अपनी मुलाकात हो

 

84 Love
2 Share