Life quotes in GIF
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"हवाओं के रूख पे ही निर्भर हैं जीवन -सरिता के बहाव हमें सँभलना सिखला ही देते हैं ये जीवन के उतार-चढ़ाव #gif"

हवाओं  के रूख पे ही निर्भर हैं 
जीवन -सरिता के बहाव
हमें सँभलना सिखला ही देते हैं 
ये जीवन के उतार-चढ़ाव #gif

#Nojoto #Nojotohindi #Gif #Nojotoenglish #NojotoWodEnglishQuoteGIF #kalakaksh #Life #Nature #TST #Motivation #kiranbala

336 Love
24 Share

""

"ज़रा सम्भल के! यह ज़िन्दगी है साहिब एक-एक क़दम का हिसाब लिया जायेगा एक ग़लत क़दम पड़ा नहीं कि तुम्हारे चलने पर ही सवाल किया जायेगा अब्दुल्लाह क़ुरैशी✍️"

ज़रा सम्भल के!


यह ज़िन्दगी है साहिब
एक-एक क़दम का हिसाब लिया जायेगा

एक ग़लत क़दम पड़ा नहीं कि
 तुम्हारे चलने पर ही सवाल किया जायेगा



अब्दुल्लाह क़ुरैशी✍️

#Zindagi #arzhai #Nojoto #nojotovichaar #NojotoFilms #nojotoLove #Nojotoindia #Popular #Trending #Shayari @Pawan Rajput @123 Naushad Ahmad 'Nazar' @ISHQ PARAST💖 @दीपिका सिंह @🌹Adhoori Khwahish🌹

192 Love
1 Share

""

"Samundar ka bahav Tez hai vo to aapko bahane ka irade se hi aaega ab dekhna ye hai ki aapka hosla Kitna buland hai? kya itna buland hai ki Us Samandar se lad kar us ko Hraa payega? (Aliya Siddiqui)✍️ (7/May/2020 )"

Samundar ka bahav Tez hai vo to aapko bahane ka irade se hi aaega ab dekhna ye hai ki aapka hosla Kitna buland hai? kya itna buland hai ki Us Samandar se lad kar us ko Hraa payega?                                                                       (Aliya Siddiqui)✍️                                                                                              (7/May/2020 )

#Samundar#Tez#Bahav. Aliyafromheart

52 Love

""

"ज़िन्दगी के समन्दर में अक्सर ज्वार भाटा तो आता है कम्भख्त वो नहीं आता जिसका हम इंतज़ार करते हैं । #gif"

ज़िन्दगी के समन्दर में अक्सर ज्वार भाटा तो आता है 
कम्भख्त वो नहीं आता जिसका हम इंतज़ार करते हैं । #gif

#Nojoto

51 Love
1 Share

""

"मैं बादलों का जबसे घर बन गया हूँ आसमांनों का नया शहर बन गया हूँ। वो अब क्यों ढूँढता है किनारा मुझमें उसी की बदौलत तो में समंदर बन गया हूँ। मुझसे न तो,खुदा से हर इबादत में पूँछ मैं कितनी ही बार तेरा हमदर्द बन गया हूँ। तू तोड़ेगा दिल हर बार ही,मुझे है गुमां और मैं खुद को काटने वाला खंजर बन गया हूँ। दरख्तओं को छोड़ आ जाते है परिंदे सांझ से, मैं खामोशियों का ऐसा मंजर बन गया हूँ। न शब्द पनपते हैं,न ख्वाइशें खिलती हैं, न नमी की कोई बूँद ही मिलती है, मैं खाक- ए -दिल का बंजर बन गया हूँ। अब दर्द तलाशते हैं तुझे ऐ " पारुल " मैं गमों का ऐसा शायर बन गया हूँ।। पारुल शर्मा #gif"

मैं बादलों का जबसे घर बन गया हूँ
आसमांनों का नया शहर बन गया हूँ।
वो अब क्यों ढूँढता है किनारा मुझमें
उसी की बदौलत तो में समंदर बन गया हूँ।
मुझसे न तो,खुदा से हर इबादत में पूँछ
मैं कितनी ही बार तेरा हमदर्द बन गया हूँ।
तू तोड़ेगा दिल हर बार ही,मुझे है गुमां
और मैं खुद को काटने वाला खंजर बन गया हूँ।
दरख्तओं  को छोड़ आ जाते है परिंदे सांझ से,
मैं खामोशियों का ऐसा मंजर बन गया हूँ।
न शब्द पनपते हैं,न ख्वाइशें खिलती हैं,
न नमी की कोई बूँद ही मिलती है,
मैं खाक- ए -दिल का बंजर बन गया हूँ।
अब दर्द तलाशते हैं तुझे ऐ " पारुल "
मैं गमों का ऐसा शायर बन गया हूँ।।
      पारुल शर्मा  #gif

मैं बादलों का जबसे घर बन गया हूँ
आसमांनों का नया शहर बन गया हूँ।
वो अब क्यों ढूँढता है किनारा मुझमें
उसी की बदौलत तो में समंदर बन गया हूँ।
मुझसे न तो,खुदा से हर इबादत में पूँछ
मैं कितनी ही बार तेरा हमदर्द बन गया हूँ।
तू तोड़ेगा दिल हर बार ही,मुझे है गुमां
और मैं खुद को काटने वाला खंजर बन गया हूँ।

46 Love