• Latest Stories

"सुबह को आगे तो शाम को पीछे, रहे छुपते छुपाते खुद को खुद की परछाई से।। क्या था पाना, क्यूँ रह गए बस भागते, अब भी हैं अनजान वजूद की सच्चाई से।।। रजनीश "स्वच्छन्द""

सुबह को आगे तो शाम को पीछे, रहे छुपते छुपाते खुद को खुद की परछाई से।।
क्या था पाना, क्यूँ रह गए बस भागते, अब भी हैं अनजान वजूद की सच्चाई से।।।

रजनीश "स्वच्छन्द"

वजूद की सच्चाई।।।।।।।#thought #shayri #Fun #Love #poem #Comedy #Meme #Nojoto #Nojotohumour #Nojotomeme #Nojotofun #kalakaksh #znmd #TST
#Nojoto #Nojotohindi #kavishala #Love #Quotes #Poetry #SAD #Motivation #Life #kalakaksh

3 Love

"इश्क-ए-माशूक में लिख डाले हर्फ़ कई, वतन के हिस्से रुसवाई ही आयी।। बह गए ज़ज़्बातों संग हो मशरूफ खुदी में, कफ़न के हिस्से तन्हाई ही आयी।। रजनीश "स्वच्छन्द""

इश्क-ए-माशूक में लिख डाले हर्फ़ कई, वतन के हिस्से रुसवाई ही आयी।।
बह गए ज़ज़्बातों संग हो मशरूफ खुदी में, कफ़न के हिस्से तन्हाई ही आयी।।

रजनीश "स्वच्छन्द"

वतन के हिस्से रुसवाई ही आयी।। ।।।।#thought #shayri #Fun #Love #poem #Comedy #Meme #Nojoto #Nojotohumour #Nojotomeme #Nojotofun #kalakaksh #znmd #TST
#Nojoto #Nojotohindi #kavishala #Love #Quotes #Poetry #SAD #Motivation #Life #kalakaksh

4 Love