• Latest Stories

"दोष गैरों को क्यूँ देना जो आये और लूट गए, मेरे लहू से सना था हाथ मेरे अपनो का।। जब हमसाया ही हो कातिल अपना, तो किससे करूँ हिसाब तलब रूह पे पड़े कफनो का।। रजनीश "स्वच्छन्द""

दोष गैरों को क्यूँ देना जो आये और लूट गए, मेरे लहू से सना था हाथ मेरे अपनो का।।
जब हमसाया ही हो कातिल अपना, तो किससे करूँ हिसाब तलब रूह पे पड़े कफनो का।।

रजनीश "स्वच्छन्द"

जब हमसाया ही हो कातिल।।।।।।।#thought #shayri #Fun #Love #poem #Comedy #Meme #Nojoto #Nojotohumour #Nojotomeme #Nojotofun #kalakaksh #znmd #TST
#Nojoto #Nojotohindi #kavishala #Love #Quotes #Poetry #SAD #Motivation #Life #kalakaksh

5 Love

"कल तलक इन आंखों को रोने से ऐतराज़ था, आज सरे बस्ती अश्कों का समंदर उमड़ रहा।। खुद को सिंचूँ या बचा लूं अहलेवतन को अपने, आज सरेआम ख्वाबों का खण्डहर उजड़ रहा।।। रजनीश "स्वच्छन्द""

कल तलक इन आंखों को रोने से ऐतराज़ था, आज सरे बस्ती अश्कों का समंदर उमड़ रहा।।
खुद को सिंचूँ या बचा लूं अहलेवतन को अपने, आज सरेआम ख्वाबों का खण्डहर उजड़ रहा।।।

रजनीश "स्वच्छन्द"

अश्कों का समंदर।।।।।।।#thought #shayri #Fun #Love #poem #Comedy #Meme #Nojoto #Nojotohumour #Nojotomeme #Nojotofun #kalakaksh #znmd #TST
#Nojoto #Nojotohindi #kavishala #Love #Quotes #Poetry #SAD #Motivation #Life #kalakaksh

6 Love

"सरे बाजार होता रहा कत्ल अरमानो का, हम खड़े बस देखते रहे।। जलती रही चिताएं ख्वाबों की, कुछ लोग बैठ हाथ बस सेकते रहे।। रजनीश "स्वच्छन्द""

सरे बाजार होता रहा कत्ल अरमानो का, हम खड़े बस देखते रहे।।
जलती रही चिताएं ख्वाबों की, कुछ लोग बैठ हाथ बस सेकते रहे।।

रजनीश "स्वच्छन्द"

हम बस देखते रहे।।।।।।।#thought #shayri #Fun #Love #poem #Comedy #Meme #Nojoto #Nojotohumour #Nojotomeme #Nojotofun #kalakaksh #znmd #TST
#Nojoto #Nojotohindi #kavishala #Love #Quotes #Poetry #SAD #Motivation #Life #kalakaksh

4 Love