• Latest Stories

"तुम्हारा मुझे देख के वो शर्माना, और चंद लम्हों के लिए वक़्त का ठहर जाना। याद है मुझे तुम्हारा वो अपनी खुली ज़ुल्फो को संवारना, और चंद लम्हों के लिए धूप में भी छाव का एहसास हो जाना। याद है मुझे तुम्हारा वो साथ चलते चलते अचानक से मेरा हाथ पकड़ना, और चंद लम्हों के लिए मेरी धडकनों का रुक जाना। याद है मुझे तुम्हारा मेरी वो फालतू की बातो पे मुस्कुराना, और चंद लम्हों के लिए मुझे ज़िन्दगी की सारी खुशी का एहसास हो जाना। याद है मुझे तुम्हारा मेरी गलतियों पे वो आंखे दिखाना, और चंद लम्हों के लिए मेरी सांसों का रुक जाना। याद है मुझे तुम्हारा वो मुझसे रूठ कर जाना, और मेरी ज़िन्दगी का रुक जाना। क्या याद है तुम्हे? शायद नहीं अगर याद होता तो इस कद्र जाना ना होता जाना।"

तुम्हारा मुझे देख के वो शर्माना,
और चंद लम्हों के लिए वक़्त
का ठहर जाना।
याद है मुझे
तुम्हारा वो अपनी खुली ज़ुल्फो 
को संवारना,
और चंद लम्हों के लिए धूप में
भी छाव का एहसास हो जाना।
याद है मुझे
तुम्हारा वो साथ चलते चलते 
अचानक से मेरा हाथ पकड़ना,
और चंद लम्हों के लिए मेरी
धडकनों का रुक जाना।
याद है मुझे
तुम्हारा मेरी वो फालतू की बातो
पे मुस्कुराना,
और चंद लम्हों के लिए मुझे ज़िन्दगी
की सारी खुशी का एहसास हो जाना।
याद है मुझे
तुम्हारा मेरी गलतियों पे वो आंखे
दिखाना,
और चंद लम्हों के लिए मेरी सांसों का
रुक जाना।
याद है मुझे
तुम्हारा वो मुझसे रूठ कर जाना,
और मेरी ज़िन्दगी का रुक जाना।
क्या याद है तुम्हे?
शायद नहीं अगर याद होता तो
इस कद्र जाना ना होता जाना।

#YaadHaiMujhe#NojotoHindi#kavishala#NojotoKhabri#TST#kalakaksh#hindinama#Quotes#poem#brokenheart#SAD#HindiPoem#Nojotoquotes#NojotoPoetry#Nojoto

53 Love