• Latest Stories

"कश्मीर का राग जो गाते हैं , उनमें हम कुछ एसा पाते हैं। भारत की भूमि पर रहकर भी , पाकिस्तान का आलाप गाते हैं। . भारत माँ के जयकारों से , जिन्हें समस्या आती हैं। उन्हें कुछ समझाने में , हमे लज्जा क्यों आती है। . हम उनको कुछ न समझा पाते , न ही कुछ दिखला पाते हैं। हिन्दुस्तान की धरा पे खडा है तू , यहाँ हिन्दू ही शेर कहलाते हैं। . सर्जिकल स्ट्राइक को धोखा बतलाकर , हीन मानसिकता दिखलाते हैं। सत्ता के गलियारों में , भारत को नीचा बतलाते हैं। . सेना के शौर्य को आओ मिल कर , नमन कर लेते हैं। तिरंगे की शान के खातिर , चोले में फिर रंग जाते हैं। . भारत माँ के जयकारों को , दिल में सजों कर जाते हैं यूँ ही नहीं हम हिन्दू कहलाते हैं . संदीप धाकड़ तिनस्याई"

कश्मीर का राग जो गाते हैं , उनमें हम कुछ एसा पाते हैं। 
भारत की भूमि पर रहकर भी , पाकिस्तान का आलाप गाते हैं। 
.
भारत माँ के जयकारों से , जिन्हें समस्या आती हैं। 
उन्हें कुछ समझाने में , हमे लज्जा क्यों आती है। 
.
हम उनको कुछ न समझा पाते , न ही कुछ दिखला पाते हैं। 
हिन्दुस्तान की धरा पे खडा है तू  , यहाँ हिन्दू ही शेर कहलाते हैं।
.
सर्जिकल स्ट्राइक को धोखा बतलाकर , हीन मानसिकता दिखलाते हैं।
सत्ता के गलियारों में , भारत को नीचा बतलाते हैं।
.
सेना के शौर्य को आओ मिल कर , नमन कर लेते हैं। 
तिरंगे की शान के खातिर , चोले में फिर रंग जाते हैं। 
.
भारत माँ के जयकारों को , दिल में सजों कर जाते हैं 
यूँ ही नहीं हम हिन्दू कहलाते हैं 
.
                        संदीप धाकड़ तिनस्याई

country is first

4 Love