• Popular Stories
  • Latest Stories

"आज बाईक 🏍 में पेट्रोल ⛽ डलवाने गया वहां देखा कि, लोग अपनी बीवी 👩 को पेट्रोल पंप के बाहर मोटरसाइकिल से उतार देते है, मैं सोचने लगा कि ऐसा क्यों करते है🤔 फिर मेरी नजर 👀वहाँ लगे बोर्ड पर पड़ी, और मैं लोटपोट होकर बहुत हँसा...😂 वहाँ लिखा था - आग 🔥 लगाने वाली चीजें दूर रखें😛😜😂"

आज बाईक 🏍 में पेट्रोल ⛽ डलवाने गया वहां देखा कि, लोग अपनी बीवी 👩 को पेट्रोल पंप के बाहर मोटरसाइकिल से उतार देते है, मैं सोचने लगा कि ऐसा क्यों करते है🤔 फिर मेरी नजर 👀वहाँ लगे बोर्ड पर पड़ी, और मैं लोटपोट होकर बहुत हँसा...😂 वहाँ लिखा था - आग 🔥 लगाने वाली चीजें दूर रखें😛😜😂

आज बाईक 🏍 में पेट्रोल ⛽ डलवाने गया वहां देखा कि, लोग अपनी बीवी 👩 को पेट्रोल पंप के बाहर मोटरसाइकिल से उतार देते है, मैं सोचने लगा कि ऐसा क्यों करते है🤔 फिर मेरी नजर 👀वहाँ लगे बोर्ड पर पड़ी, और मैं लोटपोट होकर बहुत हँसा...😂 वहाँ लिखा था - आग 🔥 लगाने वाली चीजें दूर रखें😛😜😂

614 Love
13 Share

"जब आपकी गलती हो तो गलती मानिये, इससे रिश्ते जल्दी नहीं टूटेंगे।"

जब आपकी गलती हो तो गलती मानिये, इससे रिश्ते जल्दी नहीं टूटेंगे।

जब आपकी गलती हो तो गलती मानिये, इससे रिश्ते जल्दी नहीं टूटेंगे।

595 Love
1 Share

"दिवाली रोज मनाएं फूलझड़ी फूल बिखेरे चकरी चक्कर खाए अनार उछला आसमान तक रस्सी-बम धमकाए सांप की गोली हो गई लम्बी रेल धागे पर दौड़ लगाए आग लगाओ रॉकेट को तो वो दुनिया नाप आए टिकड़ी के संग छोटे-मोटे बम बच्चों को भाए ऐसा लगता है दिवाली हम तुम रोज मनाएं। Happy Deepavali"

दिवाली रोज मनाएं फूलझड़ी फूल बिखेरे 
चकरी चक्कर खाए
अनार उछला आसमान तक रस्सी-बम धमकाए
सांप की गोली हो गई लम्बी रेल धागे पर दौड़ लगाए
आग लगाओ रॉकेट को तो वो दुनिया नाप आए
टिकड़ी के संग छोटे-मोटे बम बच्चों को भाए
ऐसा लगता है दिवाली हम तुम रोज मनाएं।

Happy Deepavali

#दीपावली

265 Love
1 Share

"मेरी सादगी हुन ग्वार तेनु लगदी आ कदे रानीहार सी मैं तेरी, क्यों हुन बोल कोड़े बोल्दा ए कदे खंण्ड मिश्री सी मैं तेरी, हुन मैनु ज़िन्दगी चों जान लई केन्हा है कदे जान ही सी "सुमन" तेरी,"

मेरी सादगी हुन ग्वार तेनु लगदी आ
कदे रानीहार सी मैं तेरी,

क्यों हुन बोल कोड़े बोल्दा ए
कदे खंण्ड मिश्री सी मैं तेरी,

हुन मैनु ज़िन्दगी चों जान लई केन्हा है
कदे जान ही सी "सुमन" तेरी,

मेरी सादगी अब तुझे ग्वार लगती है
कभी रानीहार हुया करती थी मैं तेरी,

अब कड़वे बोल बोलते हो मुझे
कभी मिशरी हुया करती थी मैं तेरी,

ज़िन्दगी से चले जाने को कहते हो अब
कभी ज़िन्दगी ही हुया करती थी सुमन तेरी,

157 Love
1 Share

"अमेठी की ग्रामीण महिलाएं प्रियंका को बिना सिन्दूर, चूड़ी, मंगलसूत्र देख बोली ? हे राम,🤔 बेचारी भरी जवानी में ? 😢😢"

अमेठी की ग्रामीण महिलाएं 
प्रियंका को बिना 
सिन्दूर, चूड़ी, मंगलसूत्र देख 
बोली ? 
हे राम,🤔

बेचारी भरी जवानी में ? 😢😢

 

151 Love
5 Share