बाद मुदत्त उसे देखा ,, लोगो ,,वो ज़रा भी नहीं बदला

"बाद मुदत्त उसे देखा ,, लोगो ,,वो ज़रा भी नहीं बदला ,,लोगों। खुश ना था मुझसे बिछड़कर वो भी,,उसके चेहरे पर लिखा था ,,लोगों । # उसकी आंखें भी कहे देती ,,रात भर वो भी ना सोया ,, लोगों। अजनबी बन के जो गुजरा है अभी ,,था किसी वक़्त में अपना,, लोगों। # दोस्त तो कोई खैर किसका है ,,उसने दुश्मन भी ना समझा ,,लोगों रात वो दर्द मेरे दिल में उठा ,, सुबह तक चैन ना आया ,,लोगों ।। # प्यास सेहराओ की फिर तेज हुई ,, अब्र फिर टूट के बरसा ,,लोगों बाद मुदत उसे देखा ,,लोगों ,,वो ज़रा भी नहीं बदला लोगों।। # parveen shakir ©Ranaa Sāçhïñ Banwal"

 बाद मुदत्त उसे देखा ,, लोगो ,,वो ज़रा भी नहीं बदला ,,लोगों।
खुश ना था मुझसे बिछड़कर वो भी,,उसके चेहरे पर लिखा था ,,लोगों ।
#
उसकी आंखें भी कहे देती ,,रात भर वो भी ना सोया ,, लोगों।
अजनबी बन के जो गुजरा है अभी ,,था किसी वक़्त में अपना,,
 लोगों।
#
दोस्त तो कोई खैर किसका है ,,उसने दुश्मन भी ना समझा ,,लोगों 
रात वो दर्द मेरे दिल में उठा ,, सुबह तक चैन ना आया ,,लोगों ।।
#
प्यास सेहराओ की फिर तेज हुई ,, अब्र फिर टूट के बरसा ,,लोगों
बाद मुदत उसे देखा ,,लोगों ,,वो ज़रा भी नहीं बदला लोगों।।
#
parveen shakir

©Ranaa Sāçhïñ Banwal

बाद मुदत्त उसे देखा ,, लोगो ,,वो ज़रा भी नहीं बदला ,,लोगों। खुश ना था मुझसे बिछड़कर वो भी,,उसके चेहरे पर लिखा था ,,लोगों । # उसकी आंखें भी कहे देती ,,रात भर वो भी ना सोया ,, लोगों। अजनबी बन के जो गुजरा है अभी ,,था किसी वक़्त में अपना,, लोगों। # दोस्त तो कोई खैर किसका है ,,उसने दुश्मन भी ना समझा ,,लोगों रात वो दर्द मेरे दिल में उठा ,, सुबह तक चैन ना आया ,,लोगों ।। # प्यास सेहराओ की फिर तेज हुई ,, अब्र फिर टूट के बरसा ,,लोगों बाद मुदत उसे देखा ,,लोगों ,,वो ज़रा भी नहीं बदला लोगों।। # parveen shakir ©Ranaa Sāçhïñ Banwal

#Saffron#nojoto @Internet Jockey Priyank Beniwal (प्रिय-अंक) @chandni @Asha...#anu Mr RN SINGH

People who shared love close

More like this

Trending Topic