आँखे न भिगोना,लोगो की बेतरतीब बात पर भी हँसना, आसान होता है टूट कर...

आँखे न भिगोना,लोगो की बेतरतीब बात पर भी हँसना,
आसान होता है टूट कर भी समान्य दिखना....

आँखे न भिगोना,लोगो की बेतरतीब बात पर भी हँसना, आसान होता है टूट कर भी समान्य दिखना....

#muskurana

People who shared love close

More like this