मोहब्बत का तो पता नही लेकिन फ़िक्र तुम्हारी करता

"मोहब्बत का तो पता नही लेकिन फ़िक्र तुम्हारी करता हूँ , चाहे बातें तुमसे उतनी करता नही लेकिन दुसरो से बातें तुम्हारी ही करता हूँ । ishaqzaade"

मोहब्बत का तो पता नही 

लेकिन फ़िक्र तुम्हारी करता हूँ ,

चाहे बातें तुमसे उतनी  करता नही 

लेकिन दुसरो से बातें तुम्हारी ही करता हूँ ।
ishaqzaade

मोहब्बत का तो पता नही लेकिन फ़िक्र तुम्हारी करता हूँ , चाहे बातें तुमसे उतनी करता नही लेकिन दुसरो से बातें तुम्हारी ही करता हूँ । ishaqzaade

People who shared love close

More like this