तेरा चुप रहना मेरे ज़ेहन में क्या बैठ गया तुझे ख्व | English Shayari

"तेरा चुप रहना मेरे ज़ेहन में क्या बैठ गया तुझे ख्वाब में देखा मैं तो उठकर बैठ गया मुस्लसल आज कल तुझे याद करता रहता हूं जाने क्या बात है जो मेरे दिल में बैठ गया आहिस्ता आहिस्ता सब मुझसे दूर हो रहें है क्या हुआ है मुझको जो तेरे इंतज़ार में बैठ गया एक दिन मेरा इंतजार करेंगे सब के सब मैं ये शहर छोड़ के किसी और शहर में जाके बैठ गया परेशान था मैं उन लोगों से कुछ कह नहीं सकता आरिफ सब कुछ छोड़ के दरिया के किनारे बैठ गया"

तेरा चुप रहना मेरे ज़ेहन में क्या बैठ गया
तुझे ख्वाब में देखा मैं तो उठकर बैठ गया

मुस्लसल आज कल तुझे याद करता रहता हूं
जाने क्या बात है जो मेरे दिल में बैठ गया

आहिस्ता आहिस्ता सब मुझसे दूर हो रहें है
क्या हुआ है मुझको जो तेरे इंतज़ार में बैठ गया

एक दिन मेरा इंतजार करेंगे सब के सब
मैं ये शहर छोड़ के किसी और शहर में जाके बैठ गया

परेशान था मैं उन लोगों से कुछ कह नहीं सकता
आरिफ सब कुछ छोड़ के दरिया के किनारे बैठ गया

तेरा चुप रहना मेरे ज़ेहन में क्या बैठ गया तुझे ख्वाब में देखा मैं तो उठकर बैठ गया मुस्लसल आज कल तुझे याद करता रहता हूं जाने क्या बात है जो मेरे दिल में बैठ गया आहिस्ता आहिस्ता सब मुझसे दूर हो रहें है क्या हुआ है मुझको जो तेरे इंतज़ार में बैठ गया एक दिन मेरा इंतजार करेंगे सब के सब मैं ये शहर छोड़ के किसी और शहर में जाके बैठ गया परेशान था मैं उन लोगों से कुछ कह नहीं सकता आरिफ सब कुछ छोड़ के दरिया के किनारे बैठ गया

#Shayari #urdu #Hindi #nojoto #nojotourdu #nojotohindi #nojotocollob #writer #Tera #chup #jehan #khwab #Dekha #Uthkar #musalsal #Yaad #intezaar #Sab #Kuch #chonkar #Dariya #kinarey #Baith #Gaya #Arif #tanha

People who shared love close

More like this