जब जब तेरी नज़रें उठी आंधी इश्क़ की ही आयी है आज भी | हिंदी शायरी

जब जब तेरी नज़रें उठी आंधी इश्क़ की ही आयी है
आज भी सोचता हूं...
क्या उस शाम महफ़िल भी मैंने तेरे नाम की जो जमायी है

जब जब तेरी नज़रें उठी आंधी इश्क़ की ही आयी है आज भी सोचता हूं... क्या उस शाम महफ़िल भी मैंने तेरे नाम की जो जमायी है

#nojotohindi #शायरी #महफूज़_जनाब #Love @mr poet🖋️🖋️✒️✒️ @silence of the sea @Deepanshi atrey @Bindass kudii S.Sangeeta

People who shared love close

More like this