आ गये तुम क्यों चमन में बेनक़ाब, उड़ गई फूलों के र | हिंदी विचार

"आ गये तुम क्यों चमन में बेनक़ाब, उड़ गई फूलों के रूख से लालियाँ,"

आ गये तुम क्यों चमन में बेनक़ाब,
उड़ गई फूलों के रूख से लालियाँ,

आ गये तुम क्यों चमन में बेनक़ाब, उड़ गई फूलों के रूख से लालियाँ,

People who shared love close

More like this