मेरी #हस्ती ही नहीं थी तेरे बगैर, तेरा #सर पे #हाथ

मेरी #हस्ती ही नहीं थी तेरे बगैर,
तेरा #सर पे #हाथ रखना याद आता है,
#मंजिल ही नहीं दिखती थी सफर में,
तेरा सही #पथ दिखलाना #याद आता है.

People who shared love close

More like this