जिरह की शुरुआत मैं किसीसे क्या करूंगा मुहब्बत भी म

जिरह की शुरुआत मैं किसीसे क्या करूंगा
मुहब्बत भी मैंने हद में रहकर किसी से बेशुमार किया था

~कुमार शिवेश झा

जिरह की शुरुआत मैं किसीसे क्या करूंगा मुहब्बत भी मैंने हद में रहकर किसी से बेशुमार किया था ~कुमार शिवेश झा

People who shared love close

More like this