My Hindi poem Jai Hind Jai Hindustan got featured in Panchdoot Mag...

My Hindi poem Jai Hind Jai Hindustan got featured in Panchdoot Magazine बहुत शुक्रिया Vikram काग़ज़ से पूछ बैठी मैं बता तुझ पे क्या लिखूँ आज
मौसम की बेरुखी या दिल का हाल..

बोल उठा वो कोरा पन्ना,
"दो लफ्ज़ ही बेशक पर लिख दो कुछ सरहद पर मेरे देश के जवानों के नाम..
जाना तो मुझे भी इक दिन रद्दी में है लेकिन वजन जब होगा मेरा तो बढ़ जायेगी उस तराजू की भी शान, लिख दो कुछ मेरे सरफरोश भाइयों के नाम, मेरे वतन के नाम.." के_मीनू_तोष keerti ameta Panchdoot

People who shared love close

More like this