#Pehlealfaaz सफर में कुछ लोग मिले, लोग मिले कि रो | हिंदी कविता

"#Pehlealfaaz सफर में कुछ लोग मिले, लोग मिले कि रोग मिले , खालीपन जो भरने आए , आंखे भर कर छोड़ गए, अब गजलें हैं,जगजीत है ।। कट रही जो रीत है, जिंदगी की गीत है ।"

#Pehlealfaaz सफर में कुछ लोग मिले, 
लोग मिले कि रोग मिले ,
खालीपन जो भरने आए ,
आंखे भर कर छोड़ गए,
अब गजलें हैं,जगजीत है ।।
कट रही जो रीत है,
जिंदगी की गीत है ।

#Pehlealfaaz सफर में कुछ लोग मिले, लोग मिले कि रोग मिले , खालीपन जो भरने आए , आंखे भर कर छोड़ गए, अब गजलें हैं,जगजीत है ।। कट रही जो रीत है, जिंदगी की गीत है ।

#zindagikigeet

People who shared love close

More like this