ना ताईद जब शर - ए - महशर मिलेंगे । मोहब्बत के अलग

"ना ताईद जब शर - ए - महशर मिलेंगे । मोहब्बत के अलग नंबर मिलेंगे । कोई चालाक पानी पी गया है । घड़े में फकत अब कंकर मिलेंगे । by # Khurram aafaq"

ना ताईद जब शर - ए - महशर मिलेंगे ।

मोहब्बत के अलग नंबर मिलेंगे ।

कोई चालाक पानी पी गया है ।

घड़े में फकत अब कंकर मिलेंगे ।

by # Khurram aafaq

ना ताईद जब शर - ए - महशर मिलेंगे । मोहब्बत के अलग नंबर मिलेंगे । कोई चालाक पानी पी गया है । घड़े में फकत अब कंकर मिलेंगे । by # Khurram aafaq

# मोहब्बत के अलग नंबर मिलेंगे # खुर्रम आफाक पोएट्री #

People who shared love close

More like this