दुःख के पहाड़ छटते जरूर है आसमाँ पर छाए कितने भी

"दुःख के पहाड़ छटते जरूर है आसमाँ पर छाए कितने भी काले बादल हटते जरूर है ना घबरा दुःख को देखकर इतना सुख के सूरज निकलते जरूर है याद रहे पेड़ सदा सूखा नही रहता शाखाओं पर पत्ते आते जरूर है बंजर धरती कभी बंजर नही रहती उस पर कभी फूल उगते जरूर है भले ही पँछी कितने हो घायल उड़ान अपनी भरते जरूर है ©Dr Manju Juneja"

दुःख के पहाड़ छटते जरूर है  
आसमाँ पर छाए  कितने भी
काले बादल हटते जरूर है 
ना घबरा दुःख को देखकर इतना 
सुख के सूरज निकलते जरूर है 
याद रहे पेड़ सदा सूखा नही रहता 
शाखाओं पर पत्ते आते जरूर है 
बंजर धरती कभी बंजर नही रहती 
उस पर  कभी फूल उगते जरूर है 
भले ही पँछी कितने हो घायल 
उड़ान अपनी भरते जरूर है

©Dr Manju Juneja

दुःख के पहाड़ छटते जरूर है आसमाँ पर छाए कितने भी काले बादल हटते जरूर है ना घबरा दुःख को देखकर इतना सुख के सूरज निकलते जरूर है याद रहे पेड़ सदा सूखा नही रहता शाखाओं पर पत्ते आते जरूर है बंजर धरती कभी बंजर नही रहती उस पर कभी फूल उगते जरूर है भले ही पँछी कितने हो घायल उड़ान अपनी भरते जरूर है ©Dr Manju Juneja

#दुख #बादल #जरूर #आसमा#पँछी #अपनी #उड़ान #भरते #पेड़

#Darknight

People who shared love close

More like this