क्यों कुछ पल का सकून नहीं देती ए जिंदगी थक गए हैं | हिंदी Shayari

"क्यों कुछ पल का सकून नहीं देती ए जिंदगी थक गए हैं ये पैर थोड़ा सकून चाहते हैं। दुनिया की दुश्वारियां जीने नहीं देती हमें, वरना ए जिंदगी हम तुझे भरपूर चाहते हैं। यूं अपनों से तकरार हम मुनासिब नहीं समझते, वरना हम भी लड़ना बखूबी जानते हैं। __Satyprabha💕 __My Life✍"

क्यों कुछ पल का सकून नहीं देती ए जिंदगी
थक गए हैं ये पैर थोड़ा सकून चाहते हैं।
दुनिया की दुश्वारियां जीने नहीं देती हमें,
वरना ए जिंदगी हम तुझे भरपूर चाहते हैं।
यूं अपनों से तकरार हम  मुनासिब नहीं समझते,
वरना हम भी लड़ना बखूबी जानते हैं।

__Satyprabha💕
       __My Life✍

क्यों कुछ पल का सकून नहीं देती ए जिंदगी थक गए हैं ये पैर थोड़ा सकून चाहते हैं। दुनिया की दुश्वारियां जीने नहीं देती हमें, वरना ए जिंदगी हम तुझे भरपूर चाहते हैं। यूं अपनों से तकरार हम मुनासिब नहीं समझते, वरना हम भी लड़ना बखूबी जानते हैं। __Satyprabha💕 __My Life✍

#Life#Pain#Motivation
#Shayari#thought
✍✍✍✍✍✍

People who shared love close

More like this