आओ तुम्हे चाँद पे ले जायें, ना जाने क्यूँ तुम् | हिंदी शायरी

"आओ तुम्हे चाँद पे ले जायें, ना जाने क्यूँ तुम्हारे दिल में सिर्फ चाँद के ही ख़्वाब पलते हैं चाँद से तुम्हारी दिल्लगी देख रातभर आसमाँ में तारे जलते हैं ।"

आओ तुम्हे चाँद पे ले जायें,  ना  जाने  क्यूँ  तुम्हारे  दिल  में 
सिर्फ चाँद के ही ख़्वाब पलते हैं 
चाँद  से तुम्हारी दिल्लगी  देख
रातभर आसमाँ में तारे जलते हैं ।

आओ तुम्हे चाँद पे ले जायें, ना जाने क्यूँ तुम्हारे दिल में सिर्फ चाँद के ही ख़्वाब पलते हैं चाँद से तुम्हारी दिल्लगी देख रातभर आसमाँ में तारे जलते हैं ।

आओ तुम्हें चाँद पर ले जायें| #chaand
Night Therapy 🌚

People who shared love close

More like this