मौसम है बर्फ और नफ़्स बेईमान है। बेचारगिये दिल की

"मौसम है बर्फ और नफ़्स बेईमान है। बेचारगिये दिल की सदा कौन सुनेगा।। इस तरफ भी शैतान है उस तरफ भी शैतान। ईमान पर डाका है दिफ़ा कौन करेगा।। जब दिल ही अपने सख्त है गुरुरो निफ़ाक़ से। फिर बात मुस्कुरा के भला कौन करेगा।। आंखे है झील जैसी पर मुँह बेज़ुबान है। मासूम सी बोली को अदा को करेगा।। #AhMeD_RaZa_QuEsHi #MiyA"

मौसम है बर्फ और नफ़्स बेईमान है।
 बेचारगिये दिल की सदा कौन सुनेगा।।

इस तरफ भी शैतान है उस तरफ भी शैतान। 
ईमान पर डाका है दिफ़ा कौन करेगा।।

जब दिल ही अपने सख्त है गुरुरो निफ़ाक़ से।
फिर बात मुस्कुरा के भला कौन करेगा।।

आंखे है झील जैसी पर मुँह बेज़ुबान है।
मासूम सी बोली को अदा को करेगा।।

#AhMeD_RaZa_QuEsHi
#MiyA

मौसम है बर्फ और नफ़्स बेईमान है। बेचारगिये दिल की सदा कौन सुनेगा।। इस तरफ भी शैतान है उस तरफ भी शैतान। ईमान पर डाका है दिफ़ा कौन करेगा।। जब दिल ही अपने सख्त है गुरुरो निफ़ाक़ से। फिर बात मुस्कुरा के भला कौन करेगा।। आंखे है झील जैसी पर मुँह बेज़ुबान है। मासूम सी बोली को अदा को करेगा।। #AhMeD_RaZa_QuEsHi #MiyA

#कौन(1st Part)
#मियां

People who shared love close

More like this