अन्जान रिश्ता (Read in caption) (अन्जान रिश्ता) T | Hindi | Nojoto...

अन्जान रिश्ता 
(Read in caption)

अन्जान रिश्ता (Read in caption)

(अन्जान रिश्ता) This is my first story based on reality...please Read this (अंजान रिश्ता)

यह कहानी एक एेसी लड़की की है जो बिल्कुल मासुम और भोली है, एेसा सब बोलते हैं !
जिसका नाम है रीया
लेकिन वो सच में क्या है वो कोई भी नहीं जानता |

उसने अभी अभी अपना college पूरा ही किया है और post graduation की prepration कर रही थी |उसे लोगों में बिल्कुल भी interest नहीं था, even वो अपनी family से भी कम ही बात करती थी |
उसे ना तो किसी में विश्वास था और ना ही फ़ालतु बाते करना पसंद था, अगर कोई काम होता तो कर आती otherwise पूरा दिन घर में ही रहती थी |
उसे पढ़ने बहुत शोक है तो वो बस कुछ ना कुछ पूरे दिन पढ़ती ही रहती थी |

दोस्त बनाना, बाते करना सब उसे timepass सा लगता था ,जो उसे बिल्कुल पसंद नहीं था |
उसके सिर्फ़ एक या दो friend थे जिनसे भी वो कम ही मिलती थी |

facebook पर उसकी friend list लम्बी थी लेकिन आज तक किसी भी messege का उसने reply नहीं किया था ,
लेकिन एक दिन जब वो facebook पर online थी तो एक dimple नाम से एक friend request आई उसने accept कर ली ,और अगले ही पल उसका messege आया hii
लेकिन उसने आज तक किसी भी messege का किसी को भी कोई reply नहीं दिया था, लेकिन पता नहीं उसने कैसे इस messege का reply कर दिया
ये सोचकर की उसके कोई friends नहीं है तो क्यूं ना किसी को तो friend बनाया जाए
और यही से उसकी दोस्ती की शुरुआत हो गयी |
ये hii !
उसकी जिंदगी में एेसा आया उसे नहीं पता था की आगे उसके साथ क्या होने वाला था

कुछ दिन उन दोनों ने बात की लेकिन उसे इस बात का पता नहीं चला की वो कौन था |
लेकिन, वो दोनों अब friend बन चुके थे और रोज बात करते थे |
वो दोनों कुछ दिनों में एेसे मिल गये थे की जैसे दोनों बहुत पहले से एक दुसरे को जानते हो

लेकिन वो उसके बारे में ज्यादा नहीं जानती थी सिर्फ़ इतना ही पता था की उसका नाम dimple है और वो दोनों की same age है |


फ़िर एक दिन उसी की एक friend का messege आया की तुम जिससे बात करती हो वो लड़की नहीं लड़का है !
और उसका नाम dimple नहीं chirag है |

यही से उसकी life का एक सफ़र शुरू हो गया और इसका अन्त क्या होने वाला था उसे खुद को भी कुछ पता नहीं था |

उसको ये messege एकदम चौका देने वाला था, क्यूकी उसके ना तो कोई friend था और ना कभी उसने ऐसा देखा था
पहली बार किसी को friend बनाया था वो भी झूठा निकला

उसे खुद पर बहुत गुस्सा आ रहा था, उसने किसी से कोई बात नहीं की कुछ दिनों के लिये phon को बंद कर दिया | कुछ दिनों बाद जब उसने अपना fb account open किया तो इतने सारे messege देखे और वो भी सारे dimple के |

उसे देखकर गुस्सा तो बहुत आया लेकिन उसने कुछ नहीं कहा सिर्फ़ उससे इतना ही पूछा की तुम chirag हो ना
और उसने हां कर ली और कहां मैं तुम्हें बताने वाला था लेकिन तुम्हारा phone भी बंद आ रहा था और fb भी |

उसने कहा की please मुझे माफ़ कर देना अगर दिल दुखाया हो तो लेकिन रीया ने first time किसी को friend बनाया था और वो भी दिल से |
वो उसे खोना नहीं चाहती थी और उसने उसे माफ़ कर दिया

और उनकी friendship का breakup होते होते बच गया |
अब वो लोग पहले की ही तरह बात करते थे लेकिन अब उसमे ये friendship बढ़ गई थी और वो दोनों एक दुसरे को प्यार करने लग गए थे |
अब वो हर रोज एक नया ख्वाब सजाने लग गये थे एक अलग ही दुनिया में जीने लग गये थे |
अब वो अपनी बात अपनी family को चाह रहे थे लेकिन रीया ने कहा की पहले वो अपने घर बात करेगी उसके बाद तुम |
chirag ने कहा ठीक है और अगले दिन रीया अपनी family से बोलने उनके पास गयी लेकिन वो लोग अपनी ही बातो में busy थे |

वो लोग रीया की ही बात कर रहे थे की हमारी रीया कितनी अच्छी है किसी से फ़ालतु बाते भी नहीं करती है और ना ही उसे इन सब में interest है
पास वाली लड़की को देखो अपनी family का कहा ही नहीं मानती,कब घर आती है कब जाती है पता ही नहीं पूरा दिन घर से बाहर दोस्तो संग घुमती रहती है family की इज्ज़त का कुछ भी ख्याल ही नहीं है |
एेसे ही वो लोग तीन चार लड़कियों के example दे रहे थे | वो लोग ये भी कह रहे थे की खुदा का बहुत बहुत शुक्रिया है की हमे रीया जैसी बेटी मिली जो इतनी भोली और सुशिल है |
रीया को ये सब बाते सुनकर खुद पर रोना आ गय और सोचने लगी की मेरी family मुझ पर इतना trust करती है अगर मैने उनको ये सब बता दिया तो उनको बहुत hurt होगा, उनका मुझ पर से विश्वास उठ जाएगा |
और वो ये सब सोचते सोचते कमरे में आ गयी उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था की वो क्या करे
किस से बात करे किस से नहीं
एक तरफ़ उसका प्यार था और दुसरी तरफ़ उसकी family का विश्वास |
उसको कुछ समझ नहीं आया और वो बस रोने लगी और। कब उसकी आँख लग गयी पता ही नहीं चला | अगले दिन उसने chirag को phone किया और सारी बाते बताई (जो भी घर में हुई) और रोने लगी और कहा की अब में तुमसे बात नहीं कर सकती और अगर तुम मुझे अपना मानते हो तो please मुझे कभी call या messege मत करना |
उसने कहा की में तुम्हारे बगेर रह नहीं पाउंगा रीया ने कहा रह तो में भी नहीं पाउंगी लेकिन अपनी family के लिये मुझे ये करना ही पड़ेगा |
और हा अगर तुम मुझे अपना मानते हो तो मेरी आखिरी ख्वाहिश जरुर पूरी कर देना
मुझे एक बार तुम्हे देखना है,बस एक बार मिलना है ,
लेकिन सबसे अन्जान बनकर |
हम जब भी मिले किसी को इस बात का पता नहीं हो की हम पहले से एक दुसरे को जानते हैं |
chirag ने कहा ठीक है अगर किस्मत ने चाहा तो हमारी मुलाकात जरुर होगी |
और दोनों ने रोते हुए phone काट दिया |
और आज उस बात को एक साल बीत चुका लेकिन उनकी मुलाकत अभी तक हुई ना है |
लेकिन उनको आज भी उम्मीद है की हमारी मुलाकत जरुर होगी और इसी आस से वो दोनों अपनी जिंदगी गुजार रहे हैं | by :- akshita jangid (poetess) #nojoto #first#story#reality#love
#friend

People who shared love close

More like this