यूँ ही एक टक मुझे देख तू,मैं धनक के चित्र उकेर लू | हिंदी विचार

"यूँ ही एक टक मुझे देख तू,मैं धनक के चित्र उकेर लूँ तिरी स्याह आँखों की झील में मेरा सात रंगों का ख़्वाब है! #अंकिता सिंह"

यूँ ही एक टक मुझे देख तू,मैं धनक
 के चित्र उकेर लूँ 
तिरी स्याह आँखों की झील में मेरा सात रंगों का ख़्वाब है!

#अंकिता सिंह

यूँ ही एक टक मुझे देख तू,मैं धनक के चित्र उकेर लूँ तिरी स्याह आँखों की झील में मेरा सात रंगों का ख़्वाब है! #अंकिता सिंह

#chai #bihariboy #bihari

People who shared love close

More like this