दिल के टूट जाने का सबब पूछ ना ऐ साकी, रूह निकल ज | हिंदी शायरी

"दिल के टूट जाने का सबब पूछ ना ऐ साकी, रूह निकल जाती है बस रह जाती है ये जिस्म बाकी..."

दिल के टूट जाने का सबब 
पूछ ना ऐ साकी, 
रूह निकल जाती है 
बस रह जाती है ये जिस्म बाकी...

दिल के टूट जाने का सबब पूछ ना ऐ साकी, रूह निकल जाती है बस रह जाती है ये जिस्म बाकी...

#brokenheart
#sahilbhardwaj #Lovequotes
#Love #nojoto #nojotohindi

People who shared love close

More like this