सच झूठ बोलता था तो सब खुश थे सच ने मुझे कितनो से | हिंदी शायरी

"सच झूठ बोलता था तो सब खुश थे सच ने मुझे कितनो से दूर करा दिया तेरी मोहोब्बत भी झूठ थी सच होती तो आज मेरे पास होती"

सच झूठ बोलता था तो सब खुश थे 

सच ने मुझे कितनो से दूर करा दिया 

तेरी मोहोब्बत भी झूठ थी

सच होती तो आज मेरे पास होती

सच झूठ बोलता था तो सब खुश थे सच ने मुझे कितनो से दूर करा दिया तेरी मोहोब्बत भी झूठ थी सच होती तो आज मेरे पास होती

#सच

People who shared love close

More like this