नम है...आँखे.... बहुत दूर....निकलना होगा.... वो क | हिंदी Poem

"नम है...आँखे.... बहुत दूर....निकलना होगा.... वो कल तक तो आदत थी , क्या...अब अकेले चलना होगा...??"

नम है...आँखे....
बहुत दूर....निकलना होगा....

वो कल तक तो आदत थी ,
क्या...अब अकेले चलना होगा...??
People who shared love close

More like this