दिल में दर्द और रंज - ओं - ग़म की तन्हाई हैं अब तो | हिंदी Shayari

"दिल में दर्द और रंज - ओं - ग़म की तन्हाई हैं अब तो मौंत आ जाए दोस्तों बस यहीं इक़ दुहाई हैं - MERI SHAYARI MERI DASTAAN"

दिल में दर्द और रंज - ओं - ग़म की तन्हाई हैं
अब तो मौंत आ जाए दोस्तों बस यहीं इक़ दुहाई हैं

- MERI SHAYARI MERI DASTAAN

दिल में दर्द और रंज - ओं - ग़म की तन्हाई हैं अब तो मौंत आ जाए दोस्तों बस यहीं इक़ दुहाई हैं - MERI SHAYARI MERI DASTAAN

कुछ #ज़ख्म है ... जों #भरते नहीं
मैं #रोज लेता हूं #दवा - #दारु
#मगर वों #काम करते #नहीं
...........................................................................
🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀🥀


#Dil me #Dard or #ranj O #gam ki #Tanhai hai

People who shared love close

More like this