Kaju Gautam

Kaju Gautam Lives in Lucknow, Uttar Pradesh, India

🖤Jeena isi ka naam h🖤 Lawyer ⚖ Instagram- kajal.gautam2307

  • Latest
  • Popular
  • Video

एक अर्से से हम साथ थे, उससे शादी करने का फैसला मेरा था, मुझे छोड़ने का फैसला उसका, जब मैने उसके फैसले की कद् की उससे दूर रहने का सोचा, "उसका फोन और मैसेज इग्नोर किया" "खुद को भी उसे फोन और मैसेज करने से रोक लिया" तो उसने मुझे ही दोषी बना दिया और मुझसे वोला क्या कोई और तुम्हरी जिन्दगी मे आ गया? क्या मज़ाक हर बार वो मेरे साथ कर गया जब खुद से न निभाया गया रिशता तो किसी और का नाम मेरे नाम के साथ जोड़ गया क्या खिलाडी़ निकला मेरी ज़िदगी से खेल गया। ©Kaju Gautam

#addiction  एक अर्से से हम साथ थे,
उससे शादी करने का फैसला मेरा था,
 मुझे छोड़ने का फैसला उसका,
जब मैने उसके फैसले की कद् की
उससे दूर रहने का सोचा,
"उसका फोन और मैसेज इग्नोर किया"
"खुद को भी उसे फोन और मैसेज करने से रोक लिया"
तो उसने मुझे ही दोषी बना दिया
 और मुझसे वोला 
क्या कोई और तुम्हरी जिन्दगी मे आ गया?
क्या मज़ाक हर बार वो मेरे साथ कर गया
जब खुद से न निभाया गया रिशता 
तो किसी और का नाम मेरे नाम के साथ जोड़ गया
क्या खिलाडी़ निकला मेरी ज़िदगी से खेल गया।

©Kaju Gautam

😐 . . . . . 29.05.2022 11:53p.m

44 Love

मेरी मुझसे ही कुछ खास बनती नहीं, जिसने मुझे रुलाया हैं मैंने उनकी ही ख़ुशियों के खातिर खुद को बर्बाद किया हैं। ©Kaju Gautam

#selfhate  मेरी मुझसे ही कुछ खास बनती नहीं,
जिसने मुझे रुलाया हैं 
मैंने उनकी ही ख़ुशियों के खातिर खुद को बर्बाद किया हैं।

©Kaju Gautam

😐 #selfhate २०.४.२०२२ ०४:१८

57 Love

 हमें अपनों से ही अपनी तकलीफ छुपानी पड़ती है,
झूठी मुस्कान चहरे पर दिखानी पड़ती है।

©Kaju Gautam

😐 . . . . . २०/४/२०२२ ०१:०९

992 View

क़िस्मत का भी क्या खेल था मोहब्बत दोनों को थी एक दूसरे से फिर भी ना जानें कितनी हिम्मत थी दोनो में कि दोनों एक दूजे का हाथ किसी और के हाथ में देखने के इंतज़ार में थे। ©Kaju Gautam

 क़िस्मत का भी क्या खेल था
मोहब्बत दोनों को थी एक दूसरे से
फिर भी ना जानें कितनी हिम्मत थी दोनो में
कि दोनों एक दूजे का हाथ 
किसी और के हाथ में देखने के इंतज़ार में थे।

©Kaju Gautam

💗💗💗 8th of dec

84 Love

नफ़रत सी होती जा रही है हर सक्श से यहाँ हर सक्श लालच से भरा है जो भी मिला है कोई सूरत,कोई पैसा,कोई रंग पर फिदा है यहाँ मेरा दिल ही बुरा है जो सिर्फ लोगो की सीरत पर फिदा है मेरी किस्मत ही बुरी है की हर बार मुझे धोखा मिला है ©Kaju Gautam

 नफ़रत सी होती जा रही है हर सक्श से
यहाँ हर सक्श लालच से भरा है
जो भी मिला है
कोई सूरत,कोई पैसा,कोई रंग पर फिदा है
यहाँ मेरा दिल ही बुरा है
जो सिर्फ लोगो की सीरत पर फिदा है 
मेरी किस्मत ही बुरी है
की हर बार मुझे धोखा मिला है

©Kaju Gautam

नफ़रत सी होती जा रही है हर सक्श से यहाँ हर सक्श लालच से भरा है जो भी मिला है कोई सूरत,कोई पैसा,कोई रंग पर फिदा है यहाँ मेरा दिल ही बुरा है जो सिर्फ लोगो की सीरत पर फिदा है मेरी किस्मत ही बुरी है की हर बार मुझे धोखा मिला है ©Kaju Gautam

85 Love

*हमसे मोहब्बत करके खुद को यू वर्वाद मत करो अपने ऑसुओ को मेरे पीछे जाया मत करो बहुत बुरी हुँ क्या क्या खामियां गिनवाऊ बस इतना बता दू किसी की छोड़ी हुई मोहब्बत हूँ मुझसे मोहब्बत करके मोहब्बत को अब काजल के नाम से बार बार यू बदनाम मत करो ©Kaju Gautam

 *हमसे मोहब्बत करके खुद को यू वर्वाद मत करो
 अपने ऑसुओ को मेरे पीछे जाया मत करो 
बहुत बुरी हुँ
क्या क्या खामियां गिनवाऊ
बस इतना बता दू
 किसी की छोड़ी हुई मोहब्बत हूँ 
मुझसे मोहब्बत करके 
मोहब्बत को अब काजल के नाम से 
बार बार यू बदनाम मत करो

©Kaju Gautam

*हमसे मोहब्बत करके खुद को यू वर्वाद मत करो अपने ऑसुओ को मेरे पीछे जाया मत करो बहुत बुरी हुँ क्या क्या खामियां गिनवाऊ बस इतना बता दू किसी की छोड़ी हुई मोहब्बत हूँ मुझसे मोहब्बत करके मोहब्बत को अब काजल के नाम से बार बार यू बदनाम मत करो ©Kaju Gautam

72 Love

Trending Topic