Mewordslover

Mewordslover Lives in Bahraich, Uttar Pradesh, India

  • Popular Stories
  • Latest Stories

" वो रोज़े की शाम चारौ तरफ हवाएं चल रही थी पत्तियाँ बेपरवाह उड़ रही थी वो मौसम ठंडा हो गया था लोग इफ्तार की तैयारी कर रहे थे मासूम बच्चे बेपरवाह खेल रहे थे कहीं पर लोग काम से लौट रहे थे कहीं पर खुदा की इबादत हो रही थी थोड़ा समय बाकी था सब लोग बैठ कर इंतजार कर रहे थे रोज़ा खोलने का वक़्त आ गया सबके चहरे पर खुशी छा गई ऐसी होती है रोज़े की शाम"


वो रोज़े की शाम 
चारौ तरफ हवाएं चल रही थी 
पत्तियाँ बेपरवाह उड़ रही थी 
वो मौसम ठंडा हो गया था 
लोग इफ्तार की तैयारी कर रहे थे 
मासूम बच्चे बेपरवाह खेल रहे थे 
कहीं पर लोग काम से लौट रहे थे 
कहीं पर खुदा की इबादत हो रही थी 
थोड़ा समय बाकी था सब लोग बैठ कर इंतजार कर रहे थे 
रोज़ा खोलने का वक़्त आ गया 
सबके चहरे पर खुशी छा गई
ऐसी होती है रोज़े की शाम

#Ramzan#

7 Love

"May Allah shower his Rehmat and Barakat on you and your entire family🌙 Amen! Eid Mubarak 🌙"

May Allah shower his
 Rehmat and Barakat 
on you and your 
entire family🌙





Amen! Eid Mubarak 🌙

#Eid#mubarak#

6 Love

"There were times when we talk to each other on phone all day And This is time when I see my phone And think should I call you or not "

There were times when we talk to each other on phone all day 
And
 This is time when I see my phone And think should I call you or not

Missing you

5 Love

"My eyes like a camera it will capture all your memories and no one can erase them Becoz all memories are in my heart and no one can reach there"

My eyes like a camera 
it will capture all your memories
 and no one can erase them 
Becoz all memories are in 
my heart and 
no one can reach there

#capture#

5 Love

"jab bhi izhar krna chaha apni mohabbat ka mere uthte kadam ruk jate hain"

jab bhi izhar krna chaha 
apni mohabbat ka
 mere uthte kadam ruk jate hain

#confess#

5 Love