अनजान लेखक

अनजान लेखक Lives in Dehradun, Uttarakhand, India

मैं अनजान हूँ अबोध हूँ इस सायर भरी दुनिया में

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"किस्मत किसमत की लकीरों में कुछ ऐसे सिलसिले आये मंजिल तो बहुत पास थी हमारे बस हम ही थे जो किसमत से बहुत दूर चले आये..! -:अनजान_आनन्द"

किस्मत किसमत की लकीरों में कुछ ऐसे सिलसिले आये
मंजिल तो बहुत पास थी हमारे बस हम ही थे
जो किसमत से बहुत दूर चले आये..!


-:अनजान_आनन्द

#किसमत_कि_लकिरें

14 Love
2 Share

"हुनर रात को रजाई सेबहर आना नहीं मुश्किल में घबराना नहीं थंड में नहाना नहीं ठीक है ? -:अनजान_आनन्द"

हुनर रात को रजाई सेबहर आना नहीं
मुश्किल में घबराना नहीं 
थंड में नहाना नहीं ठीक है ?

-:अनजान_आनन्द

#ठंड_का_अखंड_ज्ञान😂

11 Love
1 Share

"मुसाफ़िर हूँ यारों भागती दोड़ती जि़न्दगी का न घर है न ठिकाना न मंजिल का आना बस चलते हैं जाना बस चलते हैं जाना -:जिंदगी -:अनजान_आनन्द"

मुसाफ़िर हूँ यारों भागती दोड़ती जि़न्दगी का
न घर है न ठिकाना न मंजिल का आना 
बस चलते हैं जाना बस चलते हैं जाना
-:जिंदगी


-:अनजान_आनन्द

#अधूरी_जि़न्दगी
#मुसाफिर

11 Love
1 Share

"चाय और चौपाल इश्क़ कहूँ या मोहब्बतों का मुकाम बस यूंही कटती रहे चाय के साथ शाम #अनजान_आनन्द"

चाय और चौपाल इश्क़ कहूँ या मोहब्बतों का मुकाम
बस यूंही कटती रहे चाय के साथ शाम


#अनजान_आनन्द

#चाय❤

10 Love
1 Share

"अजब सा मुकाम है ज़िन्दगी ये शाम का महफ़िल सजायें जमाना हो गया जब पिया था जाम तेरे नाम का..! -:अनजान_आनन्द"

अजब सा मुकाम है ज़िन्दगी ये शाम का
महफ़िल सजायें जमाना हो गया 
  जब पिया था जाम तेरे नाम का..!


-:अनजान_आनन्द

#शुभसंध्या

9 Love
1 Share