संदीप दहिया

संदीप दहिया

तलाश में खोया हुआ मुसाफिर

facebook.com

  • Popular Stories
  • Latest Stories

#आवाजनहिअहसास
#गीत #freemind #Keepwords leave voice

24 Love
48 Views

"जिंदगी से भागता हुआ सा जा रहा था, मैं अब वो सच था जो बस झूठ चाह रहा था। ख्वाब खरीदे नींद बेचकर, फिर मैं वो दिन था, जो बस रात चाह रहा था। राह खरीदे मंजिल बेचकर ,मैं वो सफर था जो हरपल नए हालात चाह रहा था। जिंदगी देखी मौत मांग ली,मैं अब दो गज जगह में कायनात चाह रहा था।"

जिंदगी से भागता हुआ सा जा रहा था, मैं अब वो सच था जो बस झूठ चाह रहा था। 

ख्वाब खरीदे नींद बेचकर, फिर मैं वो दिन  
था,  जो बस रात चाह रहा था।
राह खरीदे मंजिल बेचकर ,मैं वो सफर था जो हरपल नए हालात चाह रहा था।
जिंदगी देखी मौत मांग ली,मैं अब दो गज जगह में कायनात चाह रहा था।

जिंदगी, सफर, हकीकत।।।।।।।।।। #जिंदगी#हाल#सोच#हकीकत @Nojoto @Nojoto News @Nojoto Hindi @Vijay @Kalpana Agarwal @Aditya Kr Rathore @Nojoto Comedy @Dernbach @Paramjeet Singh @बी.डी. यादव पंकज @Mausam Agrawal @Prateek Chouhan @KALPESH THACKER @Palak Kewlani @Pakhi Gupta @Vighnesh Upadhyay @Sheetal Sahu @Ravi Devesh @Nnidhi Lipi @Dalchand @P.Writes ✒ @Eklavya Jain Arika

21 Love

"कुछ बस्तियां हैं बस रही इन बागों को उजाड़ कर, गलीचे दरियां बन रही हैं धागों को उघाड़ कर।। बस्तियां तो बस रही पर हस्तियां मिटती जा रही, इंसान के हंसने में भी सिसकीयां निकलती जा रही। हाथ थाम एक दूसरे का जो थे साथ चल रहे, वो टांग अड़ा और सिर कुचल कर आगे बढ़ रहे, हर कोई जीतना चाहता है दूसरे को पछाड़ कर।।"

कुछ बस्तियां हैं बस रही इन बागों को उजाड़ कर, गलीचे दरियां बन रही हैं धागों को उघाड़ कर।।
बस्तियां तो बस रही पर हस्तियां मिटती जा रही, इंसान के हंसने में भी सिसकीयां निकलती जा रही। 
हाथ थाम एक दूसरे का जो थे साथ चल रहे, वो टांग अड़ा और सिर कुचल कर आगे बढ़ रहे, हर कोई जीतना चाहता है दूसरे को पछाड़ कर।।

#jindgi#Future#Insaan

20 Love

"एक झलक' एक तेरी झलक ने दिन औ जहां से गिरा रखा है , वरना हमारा भी मकाँ मुहल्ले से ऊंचा था।"

एक झलक' एक तेरी झलक ने दिन औ जहां से गिरा रखा है , 
वरना हमारा भी मकाँ मुहल्ले से ऊंचा था।

#संक्षेप

18 Love

"Sooraj quotes in Hindi कुछ देर और रुको तुम मेरे हम राह मेरी आरज़ू है, आरज़ू है के तुम देखो एक सुहानी रात की खातिर कैसे अपना वजूद छिपा लेते हैं मुहब्बत में। कुछ देर रुको बैठो और मिलो उन किरणों से जो सूरज से छिटक कर बताना चाहती हैं के एक जलता चमकता शख़्स कैसे चुप चाप दफन हुआ एक ख्वाब की चाहत में।। #NojotoQuote"

Sooraj quotes in Hindi कुछ देर और रुको तुम मेरे हम राह मेरी आरज़ू है, आरज़ू है के तुम देखो एक सुहानी रात की खातिर कैसे अपना वजूद छिपा लेते हैं मुहब्बत में।
कुछ देर रुको बैठो और मिलो उन किरणों से जो सूरज से छिटक कर बताना चाहती हैं के एक जलता चमकता शख़्स कैसे चुप चाप दफन हुआ एक ख्वाब की चाहत में।।
 #NojotoQuote

Journey of Sun
#सूरज#रात#प्यार#जुदाई#मिलन

17 Love