Sandeep Sharma

Sandeep Sharma Lives in Hamirpur, Himachal Pradesh, India

हमेशा ही कुछ सोचते रहने बाला इंसान जो अपनी ही बनाई दुनिया में मस्त है और एक दोस्त की तलाश मैं हूँ।।

  • Latest Stories

"बराबरी करनी है तो करो ना किसने मना किया है बुराई करके क्या उखाड़ लोगे।"

बराबरी करनी है तो करो ना किसने मना किया है बुराई करके क्या उखाड़ लोगे।

 

4 Love

"पैसा मेरी जिंदगी में बह रहा है ओर एक दिबय शकति मेरे उपर होती हैं ओम सांई सांई सांई राम"

पैसा मेरी जिंदगी में बह रहा है ओर एक दिबय शकति मेरे उपर  होती हैं 
ओम सांई सांई सांई राम

#बिचार-जो

4 Love

"कितनी बार मरे हुए को जलाओगे अपने अंदर देखोगे तो एक नहीं अनेक राबण पाओगे।।"

कितनी बार मरे हुए को जलाओगे
अपने अंदर देखोगे तो एक 
नहीं अनेक राबण पाओगे।।

#सोच।।। बिचार।

4 Love

"पत्थर भले ही आखिरी चोट से टूटता है।। परन्तु पहली चोट भी बयथँ नहीं जाती।। ँओम सांई राम जी।।"

पत्थर भले ही आखिरी चोट से टूटता है।। 
परन्तु  पहली चोट भी बयथँ नहीं जाती।। ँओम सांई राम जी।।

 

6 Love

"बो महलां मैं राज करै मैं शमशाद मैं रया करूं उस का रंग सै गोरा मैं राख घोल के पिया करूं बम 💣 बम भोले।"

बो महलां मैं  राज  करै  
मैं  शमशाद मैं रया करूं 
उस का रंग सै गोरा
मैं राख घोल के पिया करूं 
बम 💣 बम भोले।

#बम बम बोले।।

5 Love