फक्कड़ मिज़ाज अनपढ़ कवि सिन्टु तिवारी

फक्कड़ मिज़ाज अनपढ़ कवि सिन्टु तिवारी Lives in Dhanbad, Jharkhand, India

फक्कड़ मिज़ाज अनपढ़ कवि कवयिता काहिल हूँ मैं,फ़ितरत है नपुंसक समाज को आईना दिखाने कि इसलिए लोगों की नजर में इन्सान जाहिल हूँ मै।

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

#याद_पुलवामा_कर_लेना #nojotonews #nojotoapp #अमर_शहीद

140 Love
1.9K Views

""

"ये झुठी दलील क्यों, ये झुठी तकरीर क्यों, जब हैं लूली लंगड़ी अंधी बहरी कानून व्यवस्था इस देश की, फिर उम्मीद कैसी इंतज़ार क्यों, माना की सबूतो का पिटारा बड़ा हैं, लेकिन वो देखो सामने निरंकुश हैवानो को बचाने लाख पैतरे लिए चंद पैसो के लिए हममें से ही कोई साथ उसके खड़ा हैं, क्या फर्क पड़ता है उनको कौन सी उनकी बहन बेटी पर विपदा आन पड़ी हैं, बहन बेटी हमारी थी चिखेंगे चिल्लायेंगें, जब तक नहीं मिलता इंसाफ हम तो चित्कार मचायेंगे, फिर ये झुठी दलील क्यों, ये झुठी तकरीर क्यों, जब हैं लूली लंगड़ी अंधी बहरी कानून व्यवस्था इस देश की, फिर उम्मीद कैसी इंतज़ार क्यों? ©फक्कड़ मिज़ाज अनपढ़ कवि सिन्टु तिवारी"

ये झुठी दलील क्यों,
ये झुठी तकरीर क्यों,
जब हैं लूली लंगड़ी अंधी बहरी कानून व्यवस्था इस देश की,
फिर उम्मीद कैसी इंतज़ार क्यों, 
माना की सबूतो का पिटारा बड़ा हैं,
लेकिन वो देखो सामने निरंकुश हैवानो को बचाने लाख पैतरे लिए चंद पैसो के लिए हममें से ही कोई साथ उसके खड़ा हैं, 
क्या फर्क पड़ता है उनको कौन सी उनकी बहन बेटी पर विपदा आन पड़ी हैं,
बहन बेटी हमारी थी चिखेंगे चिल्लायेंगें, 
जब तक नहीं मिलता इंसाफ हम तो चित्कार मचायेंगे, 
फिर ये झुठी दलील क्यों,
ये झुठी तकरीर क्यों,
जब हैं लूली लंगड़ी अंधी बहरी कानून व्यवस्था इस देश की,
फिर उम्मीद कैसी इंतज़ार क्यों?

©फक्कड़ मिज़ाज अनपढ़ कवि सिन्टु तिवारी

#Insaaf_kab_milega लूली लंगड़ी अंधी बहरी #कानून_व्यवस्था इस देश की #nojotoapp #nojotohindi #thought #Poetry

133 Love
3 Share

"आप का भीड़ से हटनें का फैसला आपके साथ औरों को भी सुरक्षित रख सकता हैं। जनहितार्थ जनता कर्फ्यू का पालन करें। "

आप का भीड़ से हटनें का फैसला आपके साथ औरों को भी सुरक्षित रख सकता हैं। 
जनहितार्थ जनता कर्फ्यू का पालन करें।

#जनहितार्थ_जनता_कर्फ्यू_का_पालन_करें #nojotoapp #nojotohindi

131 Love
2.8K Views
4 Share

"मेरे परम आदरणिय भजन सम्राट तथा समाजसेवी बड़े भैया गुरुसिख्खी़ जाॅली छाबड़ा जी द्वारा स्वरचित। "

मेरे परम आदरणिय भजन सम्राट तथा समाजसेवी बड़े भैया गुरुसिख्खी़ जाॅली छाबड़ा जी द्वारा स्वरचित।

https://youtu.be/L57d-cHwQec मेरे परम आदरणिय भजन सम्राट तथा समाजसेवी बड़े भैया गुरुसिख्खी़ जाॅली छाबड़ा जी द्वारा स्वरचित। #Jolly_chabda #Nojoto #nojotohindi #nojotoapp #nojotovideo

129 Love
1.5K Views
1 Share

""

"मैं समय हुँ, ना थमता हुँ, ना ही पीछे मुड़ता हुँ, पल बीते जो भी अच्छे हो या बुरे, मेरी नजरों से या हो पल वो परे, दोषी अकसर सामने लोगों के मैं ही केवल खुद को पाता हूँ, फिर भी बढ़ने को अथक प्रयास मैं बस करता हूँ, मैं समय हुँ, ना जागता ना ही सोता हुँ, निराशा के अविरल तम में भी आलोक जगा आशा की, मैं बस चलते जाता हूँ, ना आरम्भ होता मैंरा, ना ही अंत को मैं जाता हूँ, ना ही उच को ना ही नीच को केवल, ना निर्धन को ना ही धनवान को केवल, अपितु हर मनुष्य को महत्व जीवन का मैं ही तो बताता हूँ, क्योंकर मैं समय हुँ हर किसी के साथ रहता हूँ। (©️®️फक्कड़ मिज़ाज सिन्टु तिवारी)"

मैं समय हुँ, 
ना थमता हुँ, ना ही पीछे मुड़ता हुँ, 
पल बीते जो भी अच्छे हो या बुरे, 
मेरी नजरों से या हो पल वो परे,
दोषी अकसर सामने लोगों के मैं ही केवल खुद को पाता हूँ,
फिर भी बढ़ने को अथक प्रयास मैं बस करता हूँ,
मैं समय हुँ,
ना जागता ना ही सोता हुँ, 
निराशा के अविरल तम में भी आलोक जगा आशा की, 
मैं बस चलते जाता हूँ,
ना आरम्भ होता मैंरा,
ना ही अंत को मैं जाता हूँ,
ना ही उच को ना ही नीच को केवल, 
ना निर्धन को ना ही धनवान को केवल, 
अपितु हर मनुष्य को महत्व जीवन का मैं ही तो बताता हूँ,
क्योंकर मैं समय हुँ हर किसी के साथ रहता हूँ।

(©️®️फक्कड़ मिज़ाज सिन्टु तिवारी)

#Time #मैं_समय_हुँ #Nojoto #nojotohindi #nojotoapp #Poetry

123 Love
6 Share