Seema Kapoor📝

Seema Kapoor📝 Lives in Meerut, Uttar Pradesh, India

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"ना जाने क्या जिन्दगी हमको सिखा रही हैं। बिन बात के घडी़ की सुईंया बड़ती जा रही हैं।। #NojotoQuote"

ना जाने क्या जिन्दगी 
हमको सिखा रही हैं।
बिन बात के घडी़ की 
सुईंया बड़ती जा रही हैं।। #NojotoQuote

 

275 Love
26 Share

""

"इंतजार करने में भी अपना मजा़ हैं ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ कुछ दिल से करते हैं तो कुछ मजबूरी से करते हैं पर इंतजार करते जरुर हैं* कोई हँसकर करते हैं कोई रो कर करते हैं पर इंतजार समय के अन्त तक करते हैं* #NojotoQuote"

इंतजार करने में भी अपना मजा़ हैं
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
कुछ दिल से करते हैं
तो कुछ मजबूरी से करते हैं
पर इंतजार करते जरुर हैं*
कोई हँसकर करते हैं
कोई रो कर करते हैं
पर इंतजार समय के अन्त
तक करते हैं* #NojotoQuote

क्या होता हैं इंतजार

268 Love
29 Share

""

"ऊँची,नीची सभी दीवारो से हमने झांक लिया"« दर्रख़तो के सूखे पत्तो को भी सहलाकर देख लिया"« मंजिल के हो कर करीब हम,फिर भी पार ना जाकर देख लिया"« दोनो हाथो को जोड़ कर,उम्मीदो का दामन अब ईश्वर् के आगे फैलाना हैं! गर्दिशों से बने हौसले को अब मुकाम अपना बनाना हैं!! #NojotoQuote"

ऊँची,नीची सभी दीवारो से हमने झांक लिया"«

दर्रख़तो के सूखे पत्तो को भी सहलाकर देख लिया"«

मंजिल के हो कर करीब हम,फिर भी पार ना जाकर 
देख लिया"«

दोनो हाथो को जोड़ कर,उम्मीदो का दामन अब ईश्वर्
के आगे फैलाना हैं!
गर्दिशों से बने हौसले को अब मुकाम अपना बनाना हैं!!
 #NojotoQuote

 

255 Love
14 Share

""

"कलम का कहनां हैं कभी उलझना नहीं... यदि उलझ गए तो इससे भीड़ना नहीं... जो भीड़ गए कभी तो आँसू बहाना नहीं... माया जाल हैं कलम "इसको सभांले बस एक कलम कार... #NojotoQuote"

कलम का कहनां हैं 
कभी उलझना नहीं...
यदि उलझ गए तो 
इससे भीड़ना नहीं...
जो भीड़ गए कभी तो
आँसू बहाना नहीं...
माया जाल हैं कलम
"इसको सभांले बस
एक कलम कार...
 #NojotoQuote

कहती हैं"कलम

224 Love
8 Share

""

"प्रिये दादा जी @seema kapoor याद आते बहुत हो आँखो में कभी आँसू बनकर सताते बहुत हो चले गए दूर बहुत /पर/आखरी समय में भी याद तो करते होगे बहुत मायूसी सी हैं के मिल ना पाई मैं अब अफसोस हैं किसी से कहं भी ना पाई मैं लम्बे अर्से से साथ रहे हम उम्र के आखरी पडा़व में रिश़्ते ही संजो ना पाई मैं कभी कभी एक टीस सी रह रह कर उठती हैं की क्यूँ हुई ,,(पोती बनकर)पराई मैं😔"

प्रिये दादा जी                                            @seema kapoor
याद आते बहुत हो
आँखो में कभी आँसू बनकर सताते बहुत हो

चले गए दूर बहुत /पर/आखरी समय में भी याद तो करते होगे बहुत

मायूसी सी हैं के मिल ना पाई मैं
अब अफसोस हैं किसी से कहं भी ना पाई मैं

लम्बे अर्से से साथ रहे हम उम्र के आखरी पडा़व में 
रिश़्ते ही संजो ना पाई मैं

कभी कभी एक टीस सी रह रह कर उठती हैं
की क्यूँ हुई ,,(पोती बनकर)पराई मैं😔

 

171 Love
9 Share