अंकित शर्मा बेख़बर

अंकित शर्मा बेख़बर Lives in Moradabad, Uttar Pradesh, India

जग से हारा नहीं हूँ मैं खुद से हूं हारा, एक दिन चमकुंगा लेकिन तेरा सितारा हूँ माँ।, Instagram username @kaavish_addict

myshayarioflife.wordpress.com

  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"उम्मीद है कि आँसुओं को छिपा लूंगा अपनी मुस्कान में, उम्मीद है कि चमकुंगा एक दिन ऊपर आसमान में, उम्मीद है कि, नाम रोशन करूँगा इस जहान में, उम्मीद है कि, अपना भी आशियाना बनाऊंगा इस जहां में।।"

उम्मीद है कि आँसुओं को छिपा लूंगा अपनी मुस्कान में, 
उम्मीद है कि 
चमकुंगा एक दिन ऊपर आसमान में,
उम्मीद है कि,
नाम रोशन करूँगा इस जहान में, 
उम्मीद है कि, 
अपना भी आशियाना बनाऊंगा इस जहां में।।

#61

40 Love
2 Share

""

"परेशान अब नहीं जाता हूँ महफ़िलों में बैठने को , लगता कुछ अरसे से परेशान हूँ मैं।।"

परेशान अब नहीं जाता हूँ महफ़िलों में बैठने को ,
लगता कुछ अरसे से परेशान हूँ मैं।।

#post109 #परेशान

38 Love
1 Share

""

"#DearZindagi गलती तुम्हारी भी नहीं है जनाब ये तो मेरी ही थी, तू तो अपनी जगह सही ही था सपना तो मैं ने ही देखा था।।"

#DearZindagi गलती तुम्हारी भी नहीं है जनाब ये तो मेरी ही थी,
तू तो अपनी जगह  सही ही था सपना तो मैं ने ही देखा था।।

#14

37 Love
1 Share

""

"पहले सुलझा हुआ सा मैं था तू था और मेरी मुस्कान थी, दिल में कुछ सपने थे और तुझे पाने के कितने अरमान थे, अब उलझा हुआ सा मैं हूँ और दिल में ग़मों का आसमान हैं, रोती हुई सी ये शाम है हाथों में जाम लिए ये दिल परेशान हैं॥ "

पहले सुलझा हुआ सा मैं था तू था और मेरी मुस्कान थी,
दिल में कुछ सपने थे और तुझे पाने के कितने अरमान थे,
अब उलझा हुआ सा मैं हूँ और दिल में ग़मों का आसमान हैं,
रोती हुई सी ये शाम है हाथों में जाम लिए ये दिल परेशान हैं॥

#confused #84

35 Love

""

"रास्ता तेरे साथ के हिज्र में इस तरह अजाब में हूँ बेख़बर , रास्तों पर भटक रहे हैं अब इब्तिसाम की ख़ातिर।।"

रास्ता तेरे साथ के हिज्र में इस तरह अजाब में हूँ बेख़बर ,
रास्तों पर भटक रहे हैं अब इब्तिसाम की ख़ातिर।।

#post128 #रास्ता

34 Love