Kajal Singh [ ज़िंदगी ]

Kajal Singh [ ज़िंदगी ]

जिन्दगी डगर है काँटों भरी; फिर भी मैं हँस कर चली।। कोशिशें लाखों हुई, रोकने को मेरे कदम। पर ऐ रब थाम कर तेरी उँगली; मैं फूल सी बनकर खिली।। Hlo guys it's me Kajal. You can follow me on Insta. My I'd is here👇 kajalsingh9300

  • Latest
  • Popular
  • Video
Trending Topic