आर्यन देव परिहार

आर्यन देव परिहार Lives in Deoghar, Jharkhand, India

वीर पुत्र ✍️✍🏻✍🏼✍🏽✍🏾✍🏿 हम इश्क़ की बातें करते हैं, इश्क़ नहीं 🇮🇳 जय हिन्द 🇮🇳 🚩जय श्री राम 🚩 ⚔️जय क्षत्रिय⚔️ 🗡️जय मां भवानी🗡️ 💪🏻जय राजपूताना 💪🏻 आर्यावर्त की पावन भूमि पर जन्म लिया सनातन हिन्दू धर्म को मानने वाला एक क्षत्रिय राजपूत हूं और गर्व है मुझे इस पर। यही मेरी पहचान है और ना इससे बड़ी कोई पहचान है। इंस्टाग्राम पर जुड़ने के लिए 👇🏿👇🏾👇🏽👇🏼👇🏻

https://www.instagram.com/the_aryan_deo_tabhaghat/

  • Latest
  • Video

""

"जो कहो तुम मैं मान लूंगा इश्क़ है या इबादत समझ नहीं आता 🙃 - आर्यन देव राजपूत 🇮🇳🚩🗡️"

जो कहो तुम मैं मान लूंगा
इश्क़ है या इबादत 
समझ नहीं आता 🙃

- आर्यन देव राजपूत 🇮🇳🚩🗡️

It's ur boy #ad

4 Love

#MeriKahani #nojoto #hindikavita

5 Love
36 Views

""

"जंग लगी है तलवारों में, तेज अब इसकी धार करो जो मयान में पड़ी देख रही, उससे दुष्टों का संहार करो करो नहीं परवाह किसी की, ये समय नहीं थम जाने का शीश काट लो भेड़ियों के, यही ढंग हो समझाने का जिस धरा पर नारी को देवी सा पूजा जाता है उसी वीर भूमि पर कैसे इनके सम्मान को लूटा जाता है वीरपुत्र हो तुम वीरों के, अपनी शक्ति की पहचान करो न्याय पथ में पग बढ़ते जाए, हर पग शत्रु बलिदान करो प्रतीक्षा तुम को किसकी है, तुम स्वयं एक सेनानी हो धधक रही जो अग्नि अंदर, हवा इसे तूफानी दो ये देश केवल भू भाग नहीं, ये मातृभूमि अपनी शान है इतनी सहनशीलता तुम में, ये भारत माता का अपमान है मानव नहीं होते हैं ऐसे, दुष्ट ये रावण के संतान हैं क्यों कायर बने बैठे हो तुम जब निहित तुम में श्रीराम हैं - आर्यन देव राजपूत🇮🇳🚩🗡️"

जंग लगी है तलवारों में, तेज अब इसकी धार करो
जो मयान में पड़ी देख रही, उससे दुष्टों का संहार करो

करो नहीं परवाह किसी की, ये समय नहीं थम जाने का
शीश काट लो भेड़ियों के, यही ढंग हो समझाने का

जिस धरा पर नारी को देवी सा पूजा जाता है
उसी वीर भूमि पर कैसे इनके सम्मान को लूटा जाता है

वीरपुत्र हो तुम वीरों के, अपनी शक्ति की पहचान करो
न्याय पथ में पग बढ़ते जाए, हर पग शत्रु बलिदान करो

प्रतीक्षा तुम को किसकी है, तुम स्वयं एक सेनानी हो
धधक रही जो अग्नि अंदर, हवा इसे तूफानी दो

ये देश केवल भू भाग नहीं, ये मातृभूमि अपनी शान है
इतनी सहनशीलता तुम में, ये भारत माता का अपमान है

मानव नहीं होते हैं ऐसे, दुष्ट ये रावण के संतान हैं
क्यों कायर बने बैठे हो तुम जब निहित तुम में श्रीराम हैं

- आर्यन देव राजपूत🇮🇳🚩🗡️

It's ur boy #ad

4 Love

""

"कानून की धज्जियां उड़ी, नपुंसक हो गया समाज है मासूम गुड़िया की जान गई, क्यों उठती नहीं आवाज़ है कहां गए वो अवॉर्ड वापसी, कहां गए तीनों खान कहां छुपे हो कैंडल वालों, अब कहां है नारी सम्मान पुरुष का पौरुष कहां, कहां है नारी का नारीत्व अब भी समय है बचा लो, मानवता का अस्तित्व ढूंढो स्वयं में महाराणा को, हां तुम में भी फौलाद है समाप्त करो इन गिद्धों को, ये मुगलों की औलाद है न हिन्दू है न मुस्लिम है, गुड़िया देश की बेटी है बेटियों की ये दशा देख, मां भारती भी रोती है - आर्यन देव राजपूत 🇮🇳🚩🗡️"

कानून की धज्जियां उड़ी, नपुंसक हो गया समाज है
मासूम गुड़िया की जान गई, क्यों उठती नहीं आवाज़ है

कहां गए वो अवॉर्ड वापसी, कहां गए तीनों खान
कहां छुपे हो कैंडल वालों, अब कहां है नारी सम्मान

पुरुष का पौरुष कहां, कहां है नारी का नारीत्व
अब भी समय है बचा लो, मानवता का अस्तित्व

ढूंढो स्वयं में महाराणा को, हां तुम में भी फौलाद है
समाप्त करो इन गिद्धों को, ये मुगलों की औलाद है

न हिन्दू है न मुस्लिम है, गुड़िया देश की बेटी है
बेटियों की ये दशा देख, मां भारती भी रोती है

- आर्यन देव राजपूत 🇮🇳🚩🗡️

It's ur boy #ad

19 Love