Abhishek Singh

Abhishek Singh Lives in Aurangabad, Bihar, India

उन्मुक्त हृदय के स्वामी ,काव्यपुरक, शब्दों के जादूगर, सकारात्मक सोच,आपके आशिष और हमारा संकल्प।।

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"कितना कमाए ,और कितना बचाए, किसे खुश रखे ,और कब तक, अपनी शौक का दम घोटे या अपने वजूद का,"

कितना कमाए ,और कितना बचाए,


किसे खुश रखे ,और कब तक,


अपनी शौक का दम घोटे 

या अपने वजूद का,

#संघर्ष

149 Love
13 Share

"मेरे नसीब में क्या लिखा है कुदरत ने नसीब मे ये तो मै नही जानता, बस तुझे देखता हूँ तो ख्याल आता है, "तुम्हे ही मेरा नसीब बनाया होगा""

मेरे नसीब में क्या लिखा है कुदरत ने नसीब मे

ये तो मै नही जानता,


बस तुझे देखता हूँ तो ख्याल आता है,


 "तुम्हे ही मेरा नसीब बनाया होगा"

 

117 Love
20 Share

"एक अलग ही फसाना है अपनी ज़िंदगी का ज़िंदा हूँ लेकिन वजह तलाश रहा हूँ।।"

एक अलग ही फसाना है अपनी ज़िंदगी का
       ज़िंदा हूँ लेकिन वजह तलाश रहा हूँ।।

 

74 Love
5 Share

"ख़त वो जमाना भी क्या खूब था, जब खत के लिए हर खता मंजूर थी।।"

ख़त वो जमाना भी क्या खूब था,

जब खत के लिए हर खता मंजूर थी।।

 

70 Love

"आज बारिश की बूँदो ने खिड़कियों पर दस्तक दी और कहा- "फितूर उल्फ़त थी गमजदा मोहब्बत हमारी""

आज बारिश की बूँदो ने
खिड़कियों पर दस्तक दी और कहा-

"फितूर उल्फ़त थी गमजदा मोहब्बत हमारी"

 

69 Love
1 Share