Bhushan Rao...✍️

Bhushan Rao...✍️ Lives in Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

"कोशिश" अल्फाज़ो से रौशनी फैलाने की...

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

""

"कुछ वक्त के लिए, मैं कहीं खो जाना चाहता हूँ, बेख़ौफ़ आज़ाद परिदों सा उड़ना चाहता हूँ !! ना कुछ खोने का डर, ना कुछ पाने की लालसा, बस आवारा क़दमो संग, कही भटकना चाहता हूँ !! मदमस्त पवन की तरह, अविरल बहना चाहता हूँ, हाँ, कुछ वक्त के लिए, मैं कही खो जाना चाहता हूँ !! खुले पिंजरे की क़ैद में, बंधा सा महसूस करता हूँ, कुछ वक्त के लिए, मैं सब कुछ भूल जाना चाहता हूँ !! ©Bhushan Rao...✍️"

कुछ वक्त के लिए, मैं कहीं खो जाना चाहता हूँ,
बेख़ौफ़ आज़ाद परिदों सा उड़ना चाहता हूँ !!

ना कुछ खोने का डर, ना कुछ पाने की लालसा,
बस आवारा क़दमो संग, कही भटकना चाहता हूँ !!

मदमस्त पवन की तरह, अविरल बहना चाहता हूँ,
हाँ, कुछ वक्त के लिए, मैं कही खो जाना चाहता हूँ !!

खुले पिंजरे की क़ैद में, बंधा सा महसूस करता हूँ,
कुछ वक्त के लिए, मैं सब कुछ भूल जाना चाहता हूँ !!

©Bhushan Rao...✍️

#NojotoWriter
#इच्छा_B ANUSHREE mansi sahu Amita Tiwari 🎤✍️🎸 Upasana Gupta Alveera Zindagi___ Roshni Bano

56 Love
2 Share

""

"हर चाहत का मुक्कमल होना, ना ज़रूरी है, सुकून ए हासिल को ये ऐतबार भी ज़रूरी है!! हर बार कुछ पा लेना ही सुकून नही, कभी कुछ न्योछावर भी कर के देख!! हर बार सिर्फ समेटते जाना, ऐसी भी क्या मजबूरी है!! न हो यक़ीन गर मेरी बातों का, तो क़ुदरत को देख, किसी मुस्कान की तू वजह बने, अब इसकी बारी है, तू ऐसा कर ले, लगेगा जैसे सुकून से बरसों की यारी है!! Bhushan...✍️"

हर चाहत का मुक्कमल होना, ना ज़रूरी है,
सुकून ए हासिल को ये ऐतबार भी ज़रूरी है!!

हर बार कुछ पा लेना ही सुकून नही,
कभी कुछ न्योछावर भी कर के देख!!

हर बार सिर्फ समेटते जाना, ऐसी भी क्या मजबूरी है!!
न हो यक़ीन गर मेरी बातों का, तो क़ुदरत को देख,

किसी मुस्कान की तू वजह बने, अब इसकी बारी है,
तू ऐसा कर ले, लगेगा जैसे सुकून से बरसों की यारी है!!
    
                                            Bhushan...✍️

#leftalone

50 Love
1 Share

""

"तेरी होने को, तो मैं हो जाऊं, पर बंदिशों को, सोचना भी लाज़मी है !! मेरी परवरिश नही सिखाती, कि खुदगर्ज़ हो जाऊं, मुझसे जुड़ी उम्मीदों को, सोचना भी लाज़मी है !! मुझे ये सोचना तो था, राह ए इश्क़ में चलने से पहले, अब बढ़ी है उलझन, तो ये होना भी लाज़मी है !! तेरे इश्क़ में होने का अफ़सोस नही है मुझे, नयी शुरुवात में, थोड़े डर का होना भी लाज़मी है !! ©Bhushan Rao...✍️"

तेरी होने को, तो मैं हो जाऊं,
पर बंदिशों को, सोचना भी लाज़मी है !!

मेरी परवरिश नही सिखाती, कि खुदगर्ज़ हो जाऊं,
मुझसे जुड़ी उम्मीदों को, सोचना भी लाज़मी है !!

मुझे ये सोचना तो था, राह ए इश्क़ में चलने से पहले,
अब बढ़ी है उलझन, तो ये होना भी लाज़मी है !!

तेरे इश्क़ में होने का अफ़सोस नही है मुझे,
नयी शुरुवात में, थोड़े डर का होना भी लाज़मी है !!

©Bhushan Rao...✍️

#NojotoWriter
#लाज़मी_है @Roshni Bano @Antima Jain @Amita Tiwari 🎤✍️🎸 @mansi sahu @Upasana Gupta @Alveera Zindagi___

49 Love
1 Share

""

"हे ईश्वर, कई बार संशय तेरे होने पे हो जाता है, जब सारा प्रयास, एकदम से धूमिल हो जाता है!! जब तू पालक है, इस सृष्टि में कण कण का, फिर क्यों कोई एकाएक, असहाय सा हो जाता है!! विपत्तियों का आना भी, हाँ, ज़रूरी है जीवन मे, तेरी ही मर्ज़ी होगी, अबोध मनुष्य इतना तो जानता है!! कोई सीमा तो हो, टूटने, बिखरने और फिर सवँरने की, काश, थोड़ी समझ दी होती, आखिर तू क्या चाहता है!! ©Bhushan Rao...✍️"

हे ईश्वर, कई बार संशय तेरे होने पे हो जाता है,
जब सारा प्रयास, एकदम से धूमिल हो जाता है!!

जब तू पालक है, इस सृष्टि में कण कण का,
फिर क्यों कोई एकाएक, असहाय सा हो जाता है!!

विपत्तियों का आना भी, हाँ, ज़रूरी है जीवन मे,
तेरी ही मर्ज़ी होगी, अबोध मनुष्य इतना तो जानता है!!

कोई सीमा तो हो, टूटने, बिखरने और फिर सवँरने की,
काश, थोड़ी समझ दी होती, आखिर तू क्या चाहता है!!

©Bhushan Rao...✍️

#nojotowriters✍️ @Vipin Thakur @mansi sahu @𝓓𝓮𝓮𝓹 𝔀𝓸𝓻𝓭𝓼.... @Alveera Zindagi___ @Amita Tiwari 🎤✍️🎸 @ANUSHREE ADHICARY

48 Love
2 Share

"Thank you "Anushree ji"..."

Thank you "Anushree ji"...

@RupEsh Dewangan....@(Mere Alfaz) @ANUSHREE ADHICARY @Amita Tiwari🎤✍️🎸 @Upasana Gupta @mansi sahu

48 Love
577 Views