Nojoto App Download
Home
Explore
Popular
Live Shows
Categories
Languages

RSS
jyotipandey8375

अनामिका

एक प्रयास नोजोटो के माध्यम से अपने भाव आप सभी के सामने रखने का यदि कहीं कोई त्रुटि हो जाए तो कृपया अवगत कराने का कष्ट करें । इस विराट साहित्य जगत के सामने हमारा कोई अस्तित्व नहीं, यह जानते हुए भी ना जाने क्यों लेखनी विराम लेने को तैयार नहीं , जैसे मछली पानी के बिना नहीं रह सकती उसी प्रकार हम लिखे बिना नहीं रह पा रहे । वो मशहूर होने की कोई तमन्ना नहीं क्योंकि हम उम्मीदों को कब के अंतरिक्ष में रख गायब कर चुके हैं । आप जो भी इस नए -नए रचनाकार की टूटी -फूटी रचना को अगर पढ़ने के लिए समय दे रहे तो आप को बहुत सारा ,शुक्रिया

  • 96Stories
  • 323Followers
  • 1,022Love
    10,145Views
  • Latest
  • Popular
  • Video