Mohd zeeshan

Mohd zeeshan Lives in Moradabad, Uttar Pradesh, India

words can't describe me

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"तू सुलगती आग जैसी, मैं सेहमी खाख बन जाऊं। तू नग़मा कोई शायर का, मैं उसकी साज़ बन जाऊं।।"

तू सुलगती आग जैसी, मैं सेहमी खाख बन जाऊं।
तू नग़मा कोई शायर का, मैं उसकी साज़ बन जाऊं।।

 

57 Love
3 Share

"ये जो मुझे इश्क़ का बुखार चढ़ा है। एक बार नहीं ये लगातार चढ़ा है।।"

ये जो मुझे इश्क़ का बुखार चढ़ा है।
एक बार नहीं ये लगातार चढ़ा है।।

 

50 Love
3 Share

"गलती मेरी है, सज़ा भी मुझी को मिली। आसमां के चाहने वाले को ज़मी तो मिली।"

गलती मेरी है, सज़ा भी मुझी को मिली। 
आसमां के चाहने वाले को ज़मी तो मिली।

#Missing😣😣

49 Love
5 Share

"किसी बुज़ुर्ग की राय जैसी हो, कसम से तुम बिल्कुल चाय जैसी हो।।"

किसी बुज़ुर्ग की राय जैसी हो,
कसम से तुम बिल्कुल चाय जैसी हो।।

#tea_lover

42 Love

"इश्क़ के बाज़ार के नये तस्तूर हो गये, हम वफ़ा करके भी आम ही रहे । वो बेवफाई करके मशहूर हो गये।।"

इश्क़ के बाज़ार के नये तस्तूर हो गये,
हम वफ़ा करके भी आम ही रहे ।
वो बेवफाई करके मशहूर हो गये।।

#Bewafa

41 Love
3 Share