shadab_poetry

shadab_poetry Lives in Lucknow, Uttar Pradesh, India

शायरी की दुनियां. नींद से बेहाल हैं ?? इश्क़ कीजे इश्क़ ! follow me on insta shadab_poetry

  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"मैं कोई शेर अगर सोचने को बैठूँ भी तो ज़हन तेरी ही सूरत बनाने लगता है ©शादाब"

मैं कोई शेर अगर सोचने को बैठूँ भी 

तो ज़हन तेरी ही सूरत बनाने लगता है 



©शादाब

#shadab_poetry #nojotohindi

80 Love

""

"इश्क़ महिवाल को बहाता है और रांझे को है गुमाता इश्क़ ये जनाज़ा जो उठ रहा है न ! कहते हैं इस को भी हुआ था इश्क़ ©शादाब"

इश्क़ महिवाल को बहाता है 
और रांझे को है गुमाता इश्क़

ये जनाज़ा जो उठ रहा है न !  
कहते हैं इस को भी हुआ था इश्क़

©शादाब

#shadab_poetry #nojotohindi

79 Love
2 Share

""

"जिन पे गुज़री वही जाने ये शबे हिज्र का लुत्फ़ हमसे तो एक ही रतिया न बिताई जाए ! ©शादाब"

जिन पे गुज़री वही जाने ये शबे हिज्र का लुत्फ़
 हमसे तो एक ही रतिया न बिताई जाए !

©शादाब

#shadab_poetry #nojotohindi

76 Love

""

"क्या बनाया ज़िन्दगी में ...जब उस के दिल में ज़गह बना न सके ©शादाब"

क्या बनाया ज़िन्दगी में ...जब 
उस के दिल में ज़गह बना न सके

©शादाब

#shadab_poetry

70 Love
10 Share

""

"मेरी नज़र से मुझी को गिराने लगता है हर एक शख़्स मुझे आज़माने लगता है ©शादाब"

मेरी नज़र से मुझी को गिराने लगता है 
हर एक शख़्स मुझे आज़माने लगता है

©शादाब

#shadab_poetry #nojotohindi

64 Love
1 Share